ताज़ा खबर
 

रुपहला पर्दा: ‘सूरज पर मंगल भारी’ हो सकती है रिलीज, बड़े निर्माता दीपावली पर सिनेमाघरों से दूर

मुंबई फिल्म इंडस्ट्री में कारोबारी लिहाज से दीपावली महत्वपूर्ण रही है। सालों से दीपावली पर लोकप्रिय सितारों से सजी फिल्मों के प्रदर्शन की लाइन लग जाती थी। राज्य सरकार ने पांच नवंबर से सिनेमाघरों के खुलने की घोषणा से फिल्म वालों ने राहत की सांस ली है। मगर दीपावली पर अभी तक किसी बड़े निर्माता ने अपनी फिल्म रिलीज की घोषणा नहीं की है।

कोरोना की मार सिनेमा उद्योग पर भी पड़ा है।

राजश्री प्रोडक्शंस, यशराज फिल्म्स, शाहरुख खान, रोहित शेट्टी जैसे बड़े निर्माता दीपावली पर अपनी फिल्में रिलीज करते रहे हैं। कम से कम दो बड़ी फिल्मों में दीपावली पर टकराव देखने को मिलता ही था। मझौले और कम बजट की फिल्मों के निर्माता इस टकराव को देखते हुए अपनी फिल्मों की रिलीज आगे-पीछे खिसकाते थे। दीपावली पर फिल्मजगत ने ‘ओम शांति ओम’ और ‘सांवरिया’ (2007), ‘डॉन’ और जानेमन (2006), ‘मोहब्बतें और मिशन कश्मीर’ (2000) या ‘जब तक है जान’ और ‘सन आफ सरदार’ (2012) जैसी फिल्मों की टक्कर देखी है। मगर कोराना विषाणु महामारी के कारण इस दीपावली पर सिनेमाघरों में यह टकराव देखने को नहीं मिलेगा।

अमिताभ बच्चन और अजय देवगन से लेकर अक्षय कुमार और रणवीर सिंह जैसे लोकप्रिय सितारों की फिल्मों के निर्माता हालात सामान्य होने का इंतजार कर रहे हैं। 5 नवंबर से राज्य सरकार ने आधी क्षमता के साथ सिनेमाघर खोलने की घोषणा कर दी। दीपावली सिर पर है, मगर किसी बड़े निर्माता ने फिल्म रिलीज की घोषणा नहीं की है। अक्षय कुमार की नौ नवंबर को रिलीज होने वाली फिल्म ‘लक्ष्मी’ दूसरे देशों के सिनेमाघर में दिखाने की खबरें है, मगर देश के सिनेमाघरों में इसे दिखाने की हिम्मत निर्माता ने नहीं की है।

इस साल सिनेमाघरों में सूनी दीपावली का कारण कोरोना है। मार्च में पहली पूर्णबंदी लागू होने के बाद सब कुछ ठप था। लिहाजा वे निर्माता जिन्होंने दीपावली पर अपनी फिल्म रिलीज प्लान की थी, शूटिंग ही पूरी नहीं कर पाए। दूसरी वजह सिनेमाघरों का आधी क्षमता के साथ खुलना। मतलब टिकट खिड़की पर जो धंधा होता था, उसका आधा ही सिनेमाघरों से होगा। निर्माता एक हारी हुई लड़ाई लड़ने के लिए क्यों तैयार होगा। क्यों वह अपनी फिल्म पर फ्लॉप फिल्म का ठप्पा लगवाना चाहेगा। आधी क्षमता के थियेटर में जब कारोबार आधा हो जाएगा तो फिल्म फ्लॉप कहलाएगी। इसलिए हो यह रहा है कि ज्यादातर फिल्में ओटीटी प्लेटफॉर्म पर दिखाई जा रही हैं और सिनेमाघरों में बड़ी फिल्मों के निर्माताओं ने प्रदर्शन स्थगित कर दिया है।

कोरोना के कारण निर्माताओं का शेड्यूल बुरी तरह गड़बड़ा गया है। रिलायंस एंटरटेनमेंट ने अक्षय कुमार, कैटरीना कैफ, रणवीर सिंह की ‘सूर्यवंशी’ पिछले साल 22 मई, फिर 12 जून को रिलीज की घोषणा की थी। अब उसका प्रदर्शन स्थगित हो चुका है। रिलायंस ने अपनी एक और फिल्म 1983 के विश्वकप पर बनने वाली ‘83’ (जिसमें कपिल देव की भूमिका रणवीर सिंह निभा रहे हैं) को बीते साल पांच अप्रैल, फिर 30 अगस्त को रिलीज करने की घोषणा की थी, मगर अब उसका प्रदर्शन भी स्थगित है। ऐसे निर्माताओं की सूची काफी लंबी है।

दीपावली पर अभी तक सिर्फ तीन फिल्मों की घोषणा हुई है। ओटीटी प्लेटफार्म पर दिखाई जाने वाली ‘लक्ष्मी’ (नौ नवंबर) भारतीय सिनेमाघरों में नहीं दिखाई जा रही है। यह मशहूर हॉलीवुड स्टूडियो ट्वेन्टीथ सेंचुरी फॉक्स के साथ अक्षय कुमार और तुषार कपूर ने मिलकर बनाई है। टी सीरीज के साथ अजय देवगन ने मिलकर बनाई ‘छलांग’ (राजकुमार राव, नुसरत भरुचा) 13 नवंबर को अमेजन प्राइम वीडियो पर दिखाई जाएगी। 13 नवंबर को जी टीवी की बनाई मनोज बाजपेयी, दिलजीत दोसांझ अभिनीत ‘सूरज पर मंगल भारी’ के सिनेमाघरों में रिलीज की घोषणा की गई है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 हमारी याद आएगी: बीआर चोपड़ा-जब कलाकार के जुनून ने निर्माता को झुकाया
2 वर्तमान और भविष्य: फिल्म वालों की सारी उम्मीदें अब अगले साल से जुड़ीं, 2020 में बेहाल बॉलीवुड 2021 में होगा मालामाल!
3 ताजातरीन खबर कोना: व्यावसायिक फिल्मों में भी महिलाओं को बड़ी भूमिकाएं मिलनी चाहिए : यामी गौतम
कोरोना टीकाकरण
X