ताज़ा खबर
 

Valentines Day पर ‘माता-पिता’ पूजा दिवस मनाएगी ‘श्री राम सेना’, कहा- पब, बार व मॉल पर करेंगे पर स्वयंसेवकों की तैनाती

संगठन की तरफ से कहा गया है  कि वह कर्नाटक के विभिन्न हिस्सों में अपने सदस्यों की तैनाती करेगा जहां वेलेंटाइन डे के नाम पर सार्वजनिक स्थलों पर “अश्लीलता” की आशंका होगी।

Author Edited By आइसक्रीम पॉर्लर और पार्क जैसी जगहों पर संगठन के स्वयंसेवक रहेंगे जिससे यह सुनिश्चित हो सके कि सार्वजनिक स्थलों पर कोई अश्लीलता नहीं हो। उन्होंने स्पष्ट किया कि संगठन के सदस्य कानून अपने हाथों में नहीं Edited By दक्षिणपंथी संगठन श्री राम सेना ने शनिवार को कहा कि वेलेंटाइन डे की जगह 14 फरवरी को वह ‘माता-पिता’ पूजा दिवस मनाएगी। संगठन की तरफ से कहा गया कि वह कर्नाटक के विभिन्न हिस्सों में अपने सदस्यों की तैनाती Edited By बार Edited By मॉल Edited By रुंजय कुमार Edited By सेक्स और लव जिहाद आदि का चलन बढ़ रहा है जो अस्वीकार्य है।” इस बीच बेंगलुरु के पुलिस आयुक्त कमल पंत ने कहा Edited By “पश्चिमी संस्कृति युवाओं को अपनी तरफ आकर्षित करने का प्रयास कर रही है जिसका हमारी अमूल्य विरासत पर विपरीत असर पड़ रहा है और इससे मादक द्रव्य Edited By “हम किसी को भी कानून अपने हाथ में लेने की इजाजत नहीं देंगे। अगर किसी को शिकायत है तो उन्हें हमारे पास आने दीजिए।” Edited By “हर साल हम पूरे प्रदेश में ‘माता-पिता’ पूजा का आयोजन करते हैं। हम 50 से 60 जगहों पर इस कार्यक्रम का आयोजन करेंगे।” मुतालिक ने कहा कि पब बेंगलुरु | Updated: February 13, 2021 11:16 PM
Pramod Muthalik , shri ram sena , bengluruश्रीराम सेना के प्रमुख प्रमोद मुतालिक (फोटो – इन्स्टाग्राम / प्रमोद मुतालिक )

दक्षिणपंथी संगठन श्री राम सेना ने शनिवार को कहा कि वेलेंटाइन डे की जगह 14 फरवरी को वह ‘माता-पिता’ पूजा दिवस मनाएगी। संगठन की तरफ से कहा गया है  कि वह कर्नाटक के विभिन्न हिस्सों में अपने सदस्यों की तैनाती करेगा जहां वेलेंटाइन डे के नाम पर सार्वजनिक स्थलों पर “अश्लीलता” की आशंका होगी।

संगठन के प्रमुख प्रमोद मुतालिक ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा, “हर साल हम पूरे प्रदेश में ‘माता-पिता’ पूजा का आयोजन करते हैं। हम 50 से 60 जगहों पर इस कार्यक्रम का आयोजन करेंगे।” मुतालिक ने कहा कि पब, बार, मॉल, आइसक्रीम पॉर्लर और पार्क जैसी जगहों पर संगठन के स्वयंसेवक रहेंगे जिससे यह सुनिश्चित हो सके कि सार्वजनिक स्थलों पर कोई अश्लीलता नहीं हो।

उन्होंने स्पष्ट किया कि संगठन के सदस्य कानून अपने हाथों में नहीं लेंगे और ऐसी घटनाओं को रोकने में पुलिस के साथ मिलकर काम करेंगे। श्रीराम सेना की हुब्बली इकाई ने एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा, “पश्चिमी संस्कृति युवाओं को अपनी तरफ आकर्षित करने का प्रयास कर रही है जिसका हमारी अमूल्य विरासत पर विपरीत असर पड़ रहा है और इससे मादक द्रव्य, सेक्स और लव जिहाद आदि का चलन बढ़ रहा है जो अस्वीकार्य है।” इस बीच बेंगलुरु के पुलिस आयुक्त कमल पंत ने कहा, “हम किसी को भी कानून अपने हाथ में लेने की इजाजत नहीं देंगे। अगर किसी को शिकायत है तो उन्हें हमारे पास आने दीजिए।”

Next Stories
1 J&K को सही समय पर जरूर देंगे पूर्ण राज्य का दर्जा- LS में अमित शाह का ऐलान
2 चीन के माथे पर ठंडा पसीना निकल आया, हालत पतली हो गई है- पूर्व मेजर जीडी बख्शी बोले, अर्णब ने कहा- वो भाग रहे हैं…
3 नीतीश से दूरी का साइड इफेक्ट? PK के मकान पर बिहार में चला बुल्डोजर, 10 मिनट में उखाड़ी गई बाउंड्री और दरवाजा
ये पढ़ा क्या?
X