ताज़ा खबर
 

‘सपा में विलय पर लगाइए फुलस्टॉप’, शिवपाल बोले- राज्य में कानून-व्यवस्था खराब, पर सीएम योगी ईमानदार

घर वापसी के सवाल पर उन्होंने कहा, "पार्टी के किसी भी राजनीतिक दल में विलय की कोई संभावना नहीं है और हमने तय किया है कि 2022 का विधानसभा चुनाव जोरदार तरीके से लड़ेंगे।"

Author लखनऊ | June 14, 2019 6:20 PM
उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री और प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव। (फोटो- https://www.facebook.com/shivpalsinghyadav/)

सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव के भाई और प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने साफ-साफ कहा है कि उनकी पार्टी का सपा में विलय नहीं होगा। शिवपाल ने कहा कि उनकी पार्टी अपने बूते पर 2022 का विधान सभा चुनाव लड़ेगी और राज्य में अपने दम पर सरकार बनाएगी। शुक्रवार (14 जून) को लखनऊ में पत्रकारों से बातचीत में शिवपाल ने कहा, “लोकसभा चुनाव से पहले हमने पहल की थी कि हमको भी गठबंधन में शामिल किया जाए। जब हमको अच्छा जवाब नहीं मिला तो हमने भी सभी सीटों पर अपने प्रत्याशी खड़े कर दिए थे। इसलिए हमने समाजवादी पार्टी का चैप्टर बंद कर दिया है।” उन्होंने कहा कि अब आपलोग भी सपा में विलय के सवाल पर फुलस्टॉप लगाइए क्योंकि अब इससे जुड़ा सारा चैप्टर बंद हो गया है। घर वापसी के सवाल पर उन्होंने कहा, “पार्टी के किसी भी राजनीतिक दल में विलय की कोई संभावना नहीं है और हमने तय किया है कि 2022 का विधानसभा चुनाव जोरदार तरीके से लड़ेंगे।”

अखिलेश सरकार में मंत्री रहे शिवपाल सिंह यादव इतने पर ही नहीं रुके। उन्होंने राज्य में कानून-व्यवस्था को बदतर बताया लेकिन राज्य के सीएम योगी आदित्यनाथ की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा, “प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बेहद ईमानदार और मेहनती हैं। वह हर क्षेत्र में काम कर रहे हैं लेकिन उनकी मेहनत तथा ईमानदारी पर अफसरशाही पानी फेर रही है। यहां के अफसर बेलगाम तथा भ्रष्टाचार में लिप्त हैं। इनकी संख्या इतनी अधिक है कि ये लोग मुख्यमंत्री के साथ उनके मंत्रियों के आदेश को भी किनारे लगा देते हैं।” यादव ने कहा कि पुलिस के अधिकारियों की अपराधियों से भी सांठगांठ है। इसीलिए राज्य में अपराध चरम पर है। उन्होंने कहा कि योगी जी को छोड़कर चाहे मंत्री हों या अधिकारी एसी कमरों में बैठकर ही राज्य चलवा रहे हैं और भ्रष्टाचार में लिप्त हैं।

कुछ दिनों पहले मुलायम सिंह यादव की तबियत खराब होने पर जब योगी आदित्यनाथ और शिवपाल सिंह यादव उनसे मिलने पहुंचे थे तब वहां अखिलेश यादव भी थे। इसके बाद कयास लगाए जा रहे थे कि सपा परिवार में एका हो सकता है लेकिन शिवपाल ने तमाम अटकलों को खारिज कर दिया है। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं को मिशन 2022 में जुटने का निर्देश दिया है। यह पहला मौका नहीं है जब शिवपाल ने योगी की तारीफ की हो। पहले भी वो ऐसा कर चुके हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X