ताज़ा खबर
 

नरेंद्र मोदी स्टेडियम पर शिवसेना का हमला, कहा- कांग्रेस के बाद भाजपा भी कर रही पटेल का अपमान, रामदेव ने बताया युगपुरुष

सामना में कहा गया- "नेहरू ने आईआईटी से लेकर BARC, भाखरा नांगल योजना राष्ट्र को समर्पित की, जबकि मोदी सरकार ने स्टेडियम का नाम बदला।

Author Edited By कीर्तिवर्धन मिश्र मुंबई | Updated: February 26, 2021 11:27 AM
PM Narendra Modi, Uddhav Thackerayप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और शिवसेना सुप्रीमो उद्धव ठाकरे। (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

गुजरात के अहमदाबाद में स्थित दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम मोटेरा का नाम नरेंद्र मोदी स्टेडियम करने के केंद्र सरकार के फैसले पर शिवसेना ने निशाना साधा है। पार्टी ने अपने मुखपत्र सामना में लेख के जरिए स्टेडियम को लेकर कई सवाल खड़े किए। साथ ही इसका नाम सरदार पटेल से बदलकर पीएम के नाम पर रखने पर भी भाजपा का घेराव किया गया।

नरेंद्र मोदी स्टेडियम को लेकर क्या कहा गया सामना में?: शिवसेना ने कहा, “हमेशा ही आरोप लगाया जाता रहा है कि कांग्रेस ने सरदार पटेल का नाम खत्म करने का काम किया। लेकिन गुजरात में स्थित सरदार पटेल स्टेडियम का नाम बदलकर उसे मोदी स्टेडियम किया जाए, ऐसा क्या सोनिया गांधी और राहुल गांधी ने सुझाया था क्या? सरदार पटेल का नाम मिटाने का प्रयास निश्चित तौर पर कौन कर रहा है, वह इस घटना से सामने आ गया है।

सामना में तंजपूर्ण अंदाज में कहा गया, “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी महान हैं, इसमें कोई शंका नहीं है। लेकिन वे सरदार पटेल, महात्मा गांधी, जवाहरलाल नेहरू और इंदिरा गांधी से भी महान हैं, ऐसा मोदी भक्तों को लगता होगा तो इस अंधभक्ति की अगली सीढ़ी मानना होगा। सरदार पटेल का नाम हटाकर मोदी का नाम लगाने का प्रयास व परिश्रम जिन्होंने किया, उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी को छोटा बना दिया।

‘नेहरू ने देश के निर्माण किया, मोदी काल में नाम बदले गए’: सामना में कहा गया कि भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू और गृह मंत्री सरदार पटेल के पास देश के निर्माण के लिए बहुमत था। नेहरू ने आईआईटी से लेकर भाभा परमाणु अनुसंधान केंद्र, भाखरा नांगल योजना राष्ट्र को समर्पित की। मोदी काल में क्या हुआ? दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम जो सरदार पटेल के नाम पर था उसे मिटाकर मोदी के नाम पर कर दिया गया। सरकार पटेल का कल तक गुणागान करने वाले लोग स्टेडियम के नाम के लिए सरदार विरोधी बन गए।

शिवसेना का सवाल- गुजरात में ही क्यों होता है हर बड़ा काम?: शिवसेना ने सामना में सवाल उठाया है कि दुनिया का हर बड़ा काम गुजरात में ही क्यों होता है। अखबार में कहा गया, “मोदी-शाह के नेतृत्व वाली दिल्ली सरकार की सोच हर बड़ा काम गुजरात से शुरू कराने के विचार से ग्रस्त नजर आती है। ”

रामदेव बोले- वर्तमान के महान व्यक्तित्व मोदी: दूसरी तरफ अहमदाबाद में क्रिकेट स्टेडियम का नाम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर रखे जाने को योगगुरु बाबा रामदेव ने सही ठहराया है। प्रधानमंत्री को युगपुरूष बताते हुए बाबा रामदेव ने कहा कि अतीत के महान व्यक्तित्वों के नाम पर भवनों और स्मारकों के नाम रखे जा सकते हैं, ऐसे में ‘‘वर्तमान के महान व्यक्तित्व नरेंद्र मोदी हैं और उनके नाम पर स्टेडियम का नाम रखना गलत नहीं है।’’

Next Stories
1 पाकिस्तान ने 5133 सीजफायर उल्लंघन के बाद कहा- समझौतों का पालन करेंगे, भारत ने छोड़ी आतंक और वार्ता साथ-साथ नहीं की जिद
2 मुकेश अंबानी के घर के बाहर मिली कार में धमकी वाली चिट्ठी, लिखा, नीता भाभी, यह तो सिर्फ झलक, फैमिली को उड़ाने का प्लान तैयार
3 JDU प्रवक्ता से बोले पैनलिस्ट- खा जाएगी भाजपा, जवाब मिला- बंद हो जाएगी लैंबोरगिनी
आज का राशिफल
X