ताज़ा खबर
 

शिवसेना सांसद बोले- खत्‍म है नरेंद्र मोदी लहर, राहुल गांधी हैं पीएम बनने के काब‍िल

राउत ने कहा कि जीएसटी को लेकर गुजरात के लोगों में काफी गुस्सा है, इसकी वजह से दिसंबर में होने वाले विधानसभा चुनाव में भाजपा को कड़ी टक्कर का सामना करना पड़ेगा।
कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी। (Photo Source: Indian Express)

शिवसेना के सांसद संजय राउत ने कहा कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी देश का नेतृत्व करने में सक्षम हैं और साथ ही कहा कि देश में अब नरेंद्र मोदी लहर खत्म हो चुकी है। राउत का यह बयान भारतीय जनता पार्टी के लिए परेशानी खड़ा कर सकता है। उन्होंने कहा कि जीएसटी को लेकर गुजरात के लोगों में काफी गुस्सा है, इसकी वजह से दिसंबर में होने वाले विधानसभा चुनाव में भाजपा को कड़ी टक्कर का सामना करना पड़ेगा। राउत ने एक टीवी चैनल की बहस में हिस्सा लेते हुए यह बयान दिया। उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस नेता राहुल गांधी देश का नेतृत्व करने में सक्षम हैं। उन्हें ‘पप्पू’ बोलना गलत है।’ इस टीवी बहस में राज्य शिक्षा मंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता विनोद तावड़े भी मौजूद थे। साल 2014 के लोकसभा चुनाव में भारी बहुमत हासिल करने वाली भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधते हुए सांसद ने कहा, ‘इस देश में सबसे बड़ी शक्ति जनता… मतदाता हैं। वो किसी को भी पप्पू बना सकते हैं।’

राउत ने साथ ही कहा, ‘2014 के लोकसभा चुनाव में मोदी लहर थी, लेकिन यह लहर खत्म हो चुकी है। जीएसटी लागू होने के बाद गुजरात में जिस तरह से लोग प्रदर्शन कर रहे हैं, उससे लगता है कि भाजपा को चुनाव में कड़ी टक्कर मिलेगी।’

एनडीए की साथी पार्टी शिवसेना समय-समय पर भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधती रहती है। पार्टी के मुखपत्र सामना के जरिए अकसर ये निशाने साधे जाते हैं। राउत का यह बयान गुजरात विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान होने के एक दिन बाद आया है। नरेंद्र मोदी के गृह राज्य गुजरात में शिवसेना का कोई बेस नहीं है, ऐसे में उसने अपना समर्थन पाटिदार नेता हार्दिक पटेल को दिया है। हार्दिक पटेल ने इस साल शिवेसना प्रमुख उद्धव ठाकरे से मुलाकात की थी।

बता दें, गुजरात में विधानसभा चुनाव 9 और 14 दिसंबर को दो चरणों में होंगे। मतगणना 18 दिसंबर को हिमाचल प्रदेश के साथ कराई जाएगी। विधानसभा की कुल 182 सीटों में से पहले चरण में 89 सीटों और दूसरे चरण में 93 सीटों पर चुनाव कराया जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. m
    manojk.pandey
    Oct 27, 2017 at 9:28 am
    शिव सेना को कांग्रेस के साथ जाना चाहिए. भारत कांग्रेस मुक्त होगा और साथ साथ महाराष्ट्र शिव सेना से मुक्त हो जायेगा.
    (0)(3)
    Reply
    1. K
      KG
      Oct 27, 2017 at 6:47 am
      Those who are supported by shive sena do not require opposition to create problems for oneself. shiv sena is a virus that enters a party and make it sick. Shiv sena implode align party,
      (1)(2)
      Reply
      1. M
        Mandhata Prasad
        Oct 27, 2017 at 3:02 am
        राउत व्हाई डोंट यू फॉर P M पोस्ट योरसेल्फ यू विल बे बेटर कॉमेडियन
        (2)(2)
        Reply
        1. M
          MIGHTY BOMBER
          Oct 27, 2017 at 1:39 am
          जब नोटबंदी की घोषणा हुई तो लोगों को बहुत परेशानी का सामना करना पड़ा और यह कहा जाने लगा कि पांच राज्यों के चुनाव में भारतीय जनता पार्टी नहीं जीत सकती, लेकिन चुनाव परिणाम ने सारे पूर्वानुमानो को ध्वस्त कर दिया. उस चुनावी जीत के कई कारण थे जैसे कि वोटिंग मशीन से हेरा फेरी, बोगस वोटिंग, धार्मिक मुद्दे पर वोटो का ध्रुवीकरण, लोन की अदायगी से छूट का वादा, इत्यादि. इन सब कारणों से नोटबंदी से उपजे गुस्से का असर कम हो गया, इसके आलावा नोटबंदी से नाराज़ लोगों ने वोटिंग दिवस पर छुट्टी मनाई और वोट नहीं दिया. इसलिए जब तक चुनाव परिणाम घोषित न हो जाएं तब तक पूर्वानुमान से बचना चाहिए. क्या gst से असंतुष्ट वोटर निर्णायक भूमिका अदा करेंगे, यह बहुत बड़ा सवाल है.
          (2)(1)
          Reply
          1. R
            ram
            Oct 27, 2017 at 12:31 am
            congress ek islamic party है---इनके सारे कारनामे पाकिस्तान से जुड़े hai
            (2)(2)
            Reply
            1. Load More Comments