ताज़ा खबर
 

पंचतत्व में विलीन हुईं शीला दीक्षित, राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई

पूर्व मुख्यमंत्री के पुत्र संदीप दीक्षित ने सीएनजी दाह संस्कार केंद्र में उन्हें मुखाग्नि दी। वहां मौजूद हर शख्स दीक्षित की एक झलक पाने को आतुर था।

Sheila Dikshit Death, Sheila Dikshit, Former Chief Minister, Congress Leader, Husband, Vinod Dixit, IAS Officer, Unnao, UP, DU, History, New Delhi, State News, National News, Hindi News81 वर्ष में दिल का दौरा पड़ने से शनिवार को शीला दीक्षित का निधन हो गया। शाम को उनके पार्थिव शरीर के दर्शन करने पीएम नरेंद्र मोदी समेत कई राजनेता उनके आवास पहुंचे।

अजय पांडेय

दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का रविवार को निगमबोध घाट पर पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। पूर्व मुख्यमंत्री को अंतिम विदाई देने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी, सूबे के उपराज्यपाल अनिल बैजल, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया निगमबोध घाट पर मौजूद थे। सभी गणमान्य लोगों ने दिवंगत दीक्षित के पार्थिव शरीर पर पुष्पांजलि अर्पित की। पूर्व मुख्यमंत्री के पुत्र संदीप दीक्षित ने सीएनजी दाह संस्कार केंद्र में उन्हें मुखाग्नि दी। कांग्रेस के कोषाध्यक्ष अहमद पटेल, राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद, उपनेता आनंद शर्मा, कांग्रेस महासचिव मुकुल वासनिक, तारिक अनवर सहित, पूर्व गृह मंत्री शिवराज पाटील सहित कांग्रेस के शीर्ष स्तर के तमाम नेता अंतिम संस्कार में मौजूद थे। दीक्षित की बहनें, उनकी बेटी लतिका सहित उनके परिवार के सदस्य भी थे।

वहां मौजूद हर शख्स दीक्षित की एक झलक पाने को आतुर था। यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी को भी तमाम सुरक्षा व्यवस्था के बावजूद भीड़भाड़ से गुजरना पड़ा। दिल्ली कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष अजय माकन, अरविंदर सिंह लवली, जयप्रकाश अग्रवाल, कार्यकारी अध्यक्ष हारुन युसूफ, देवेंद्र यादव, पूर्व विधायक मुकेश शर्मा, वरिष्ठ नेता चतर सिंह सहित बहुत बड़ी संख्या में सूबे के कांग्रेसी मूसलाधार बारिश की परवाह नहीं करते हुए वहां पहुंचे थे। दीक्षित को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए सोनिया गांधी ने कहा कि दिल्ली की तीन बार मुख्यमंत्री रह चुकीं दीक्षित एक मित्र और एक बड़ी बहन के समान थीं। उनका निधन कांग्रेस पार्टी के लिए बड़ी क्षति है।

भाजपा के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी और पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज दीक्षित को श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए उनके आवास पर पहुंचे। दीक्षित के पार्थिव शरीर को कांग्रेस मुख्यालय ले जाया गया जहां पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और कमलनाथ समेत पार्टी के शीर्ष नेताओं ने श्रद्धांजलि दी। इसके बाद उनके पार्थिव देह को दिल्ली प्रदेश कांग्रेस समिति के कार्यालय ले जाया गया, जहां बड़ी संख्या में पार्टी कार्यकर्ताओं ने उन्हें श्रद्धांजलि दी। व प्रशंसकों ने उन्हें भावभीनी विदाई दी। तीन बार दिल्ली की मुख्यमंत्री रहीं और राजधानी को आधुनिक रूप देने वाली वरिष्ठ कांग्रेस नेता का दिल का दौरा पड़ने के बाद यहां एक निजी अस्पताल में शनिवार दोपहर निधन हो गया था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 नसीरुद्दीन ने अब दिया ‘मॉब लींचिंग’ पर बयान, कहा- काफी दर्द झेला है
2 लोकसभा में कांग्रेस के सदस्य तो बढ़े पर प्रभाव नहीं
3 TMC समर्थक ने बीजेपी प्रवक्ता पर कसा तंज- बांग्ला आती नहीं तो कैसे समझेंगे ममता की बात, एंकर ने लगा दी क्लास
ये पढ़ा क्या?
X