ताज़ा खबर
 

आवाज के नमूने की जांच पर इंद्राणी की रजामंदी

शीना बोरा हत्या मामले की मुख्य आरोपी इंद्राणी मुखर्जी ने मंगलवार को एक अदालत में आवाज के नमूने की जांच के लिए अपनी रजामंदी दे दी। इंद्राणी की.

Author मुंबई | Published on: November 4, 2015 1:34 AM
इंद्राणी मुखर्जी को शीना बोरा की अप्रैल 2012 में हत्या करने और उसके शव को रायगढ़ के जंगल में ठिकाने लगाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। (पीटीआई फाइल फोटो)

शीना बोरा हत्या मामले की मुख्य आरोपी इंद्राणी मुखर्जी ने मंगलवार को एक अदालत में आवाज के नमूने की जांच के लिए अपनी रजामंदी दे दी। इंद्राणी की कथित आवाज वाले कुछ कॉल रिकॉर्ड प्राप्त होने के बाद सीबीआइ ने जांच के लिए उनकी आवाज का नमूना मांगा था। इस सनसनीखेज हत्या मामले की जांच की जिम्मेदारी संभालने के बाद सीबीआइ ने ये नमूने इसलिए मांगे थे कि कथित तौर पर इंद्राणी की आवाज वाले कॉल रिकॉर्डों में दर्ज आवाज की जांच की जा सके।

इंद्राणी ने अदालत से कहा, ‘मैं परीक्षण के लिए सहमति देती हूं’। मजिस्ट्रेट आर वी एडोन ने सीबीआइ के आवेदन को मंजूर करके यह निर्देश दिया कि आवाज के नमूने का परीक्षण करने के दौरान जेल के नियमों का पालन किया जाए। इंद्राणी को मंगलवार को जब अदालत में पेश किया गया तो मजिस्ट्रेट ने सीबीआइ की अर्जी का उल्लेख किया। इस पर इंद्राणी ने पूछा – ‘यह किस बारे में है? यह किस चीज के साथ मिलान के लिए है’? तब अदालत ने उसे विशेष सरकारी वकील के आने तक इंतजार करने के लिए कहा। विशेष सरकारी वकील कविता पाटिल के आने पर भी उसने सवाल दोहराए।

इंद्राणी ने कहा, ‘मैं अपनी सहमति दूंगी लेकिन मैं जानना चाहती हूं कि यह (आवाज के नमूने का परीक्षण) किस चीज से मेल कराने के लिए है’? पाटिल ने इंद्राणी को बताया कि उसकी आवाज के नमूने कुछ आवाजों के साथ मेल कराने के लिए चाहिए। इंद्राणी ने जब इस बारे में अधिक जानने की कोशिश की तो पाटिल ने उसे बताया कि वह यह सब नहीं जान सकतीं क्योंकि यह जांच का हिस्सा है। इसके बाद इंद्राणी ने अपनी आवाज के नमूने के परीक्षण के लिए लिखित सहमति दे दी।

हत्या के मामले में इंद्राणी (43), उसके पूर्व पति संजीव खन्ना और उसके चालक श्याम राय को पिछले सप्ताह 7 नवंबर तक के लिए न्यायिक हिरासत में भेजा गया था। इन लोगों को अप्रैल 2012 में इंद्राणी की 24 वर्षीय बेटी शीना की हत्या करने और उसके शव को रायगढ़ के एक जंगल में ठिकाने लगाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

लगातार ब्रेकिंग न्‍यूज, अपडेट्स, एनालिसिस, ब्‍लॉग पढ़ने के लिए आप हमारा फेसबुक पेज लाइक करेंगूगल प्लस पर हमसे जुड़ें  और ट्विटर पर भी हमें फॉलो करें

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories