ताज़ा खबर
 

मोदी पर किताब को लेकर थरूर ने लिखा 29 अक्षरों वाला शब्द, मतलब पूछने लगे लोग

शशि थरूर ने अपनी पुस्तक का जिक्र करते हुए उन्होंने अंग्रेजी शब्द ‘फ्लोक्सिनॉसिनिहिलिपिलिफिकेशन'' का इस्तेमाल किया, जिसके बाद सोशल मीडिया पर उनका मजाक उड़ने लगा।

कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने बुधवार को अपनी नई किताब ‘द पैराडॉक्सिकल प्राइम मिनिस्टर : नरेंद्र मोदी एंड हिज इंडिया’ की घोषणा की।

कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर लिखी अपनी नई किताब का बुधवार को सोशल मीडिया में प्रचार करते हुए एक ऐसे शब्द का इस्तेमाल किया कि लोगों में इसका मतलब और उच्चारण जानने की होड़ सी लग गई। अपनी पुस्तक का जिक्र करते हुए उन्होंने अंग्रेजी शब्द ‘फ्लोक्सिनॉसिनिहिलिपिलिफिकेशन” का इस्तेमाल किया, जिसके बाद सोशल मीडिया पर उनका मजाक उड़ने लगा। यूजर्स ने पूछा- क्या यह किताब खरीदने पर डिक्शनरी मुफ्त में मिलेगी? थरूर ने लिखा, ” मेरी नई किताब, ”द पेराडॉक्सियल प्राइम मिनिस्टर है जिसमें 400 पन्नों के अलावा ‘‘फ्लोक्सिनॉसिनिहिलिपिलिफिकेशन” पर मेरी मेहनत भी है।” दरअसल, इस शब्द का मतलब होता है- किसी भी बात पर आलोचना करने की आदत, चाहे वो गलत हो या सही।  वैसे, यह कोई पहला मौका नहीं है जब थरूर ने सोशल मीडिया में किसी शब्द का इस्तेमाल किया हो और लोग इसके अर्थ एवं उच्चारण को लेकर बहस करने लगे हों।

गौरतलब है कि कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने बुधवार को अपनी नई किताब ‘द पैराडॉक्सिकल प्राइम मिनिस्टर : नरेंद्र मोदी एंड हिज इंडिया’ की घोषणा की। 50 अध्यायों वाले पांच खंडों की यह किताब 26 अक्टूबर को रिलीज होगी। प्रकाशक ‘एलेफ बुक कंपनी’ ने एक बयान में कहा, “नरेंद्र मोदी झूठे व्यक्ति हैं। वह कहते कुछ हैं और करते कुछ और हैं। जहां उन्होंने कई उदारवादी विचारों को आवाज दी, वहीं उन्होंने राजनीतिक फायदे के लिए भारतीय समाज के कई सबसे संकुचित तत्वों को बढ़ावा दिया है। एक और विरोधाभास यह है कि प्रभावी शासन के लिए खुद पर गर्व करने वाले प्रधानमंत्री कैसे भीड़ की हिंसा, सांप्रदायिक दंगों, खराब प्रशासन, गौ-रक्षकों की हिंसा और अन्य बुरे पहलुओं को अपनी चुप्पी से बढ़ावा देते नजर आते हैं। और तीसरा झूठ है कि देश के लिए उनकी ऊंची महत्वाकांक्षा भरी बातों के बीच सरकार का प्रदर्शन औसत स्तर से भी कम है।”

‘द पैराडॉक्सिकल प्राइममिनिस्टर : नरेंद्र मोदी एंड हिज इंडिया’ प्री-ऑर्डर के लिए अमेजन पर उपलब्ध है। 17 अन्य किताबें लिख चुके थरूर की 400 पृष्ठों की यह किताब इस बात का निरीक्षण करेगी कि वास्तविक नरेंद्र मोदी कौन हैं। एलेफ ने कहा कि किताब एक ऐसे नेता के बारे में उत्पन्न प्रश्नों के उत्तर देती है, जो समान रूप से बुरा और पूज्य दोनों है।

भाषा के इनुपुट के साथ।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App