ताज़ा खबर
 

खुद को पीएम कैंडिडेट बनाने की मांग से हैरान हैं शशि थरूर, फेसबुक पर लिखा- बेहतर भारत के लिए काम करता रहूंगा

शशि थरूर ने अपनी पोस्‍ट में कहा है कि उन्‍हें जो जिम्‍मेदारी मिलेगी, वह उसे पूरी क्षमता से निभाएंगे।

कांग्रेस सांसद शशि थरूर को 2019 के लोकसभा चुनावों के लिए संयुक्‍त प्रगतिशील गठबंधन(यूपीए) की ओर से प्रधानमंत्री पद का उम्‍मीदवार बनाए जाने के लिए ऑनलाइन पिटिशन शुरू की गई है।

कांग्रेस सांसद व वरिष्‍ठ राजनेता शशि थरूर ने उन्‍हें पीएम कैंडिडेट बनाने की मांग वाली ऑनलाइन याचिका को वापस लेने की अपील की है। केरल की राजधानी तिरुवनंतपुरम के एक व्‍यक्ति ने वेबसाइट (चेंज डॉट ओरजी) पर यह याचिका शुरू की थी। इस याचिका में मांग की गई थी कि ”2019 के लिए हम यूपीए की ओर से डॉक्‍टर शशि थरूर को प्रधानमंत्री पद के लिए उम्‍मीदवार के तौर पर नामांकित करते हैं। यह दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र के हित में है और विपक्ष को फिर से खड़ा करने के लिए है।” थरूर ने इस याचिका के मीडिया में सुर्खियां बटोरने के बाद फेसबुक पर प्रतिक्रिया दी है। उन्‍होंने लिखा है क‍ि वह ऐसी याचिका देखकर ‘हैरान और अभिभूत’ हैं। थरूर लिखते हैं, ”मैं पिछले कुछ दिनों से चर्चा में Change.org पिटिशन के बारे में जानकार हैरान और अभिभूत हो गया जिसमें कांग्रेस पार्टी और 2019 लोकसभा चुनाव में मेरे लिए अहम भूमिका की वकालत की गई थी, और जिस तरह की प्रतिक्रिया इसे मिली है। हालांकि मैं समझता हूं कि वक्‍त आ गया है कि मैं साफ कर दूं कि मैं ऐसे किसी अभियान का समर्थन नहीं करता।”

थरूर ने आगे लिखा है, ”शुरुआत में मैंने पिटिशन को नजरअंदाज करने की कोशिश की, क्‍योंकि इस तरह से भारतीय राजनीति काम नहीं करती है। मगर मीडिया, खासतौर से सोशल मीडिया में इसे मिली अटेंशन की वजह से मुझे जवाब देना चाहिए। मैं इस याचिका को शुरू करने वाले शख्‍स को धन्‍यवाद देता हूं जिन्‍होंने संसद में अपने प्रतिनिधि के तौर पर मुझपर भरोसा जताया। यह सज्‍जन मेरी समझ से तिरुवनंतपुरम से ही हैं। मैं उन सभी का शुक्रिया अदा करता हूं जिन्‍होंने अपनी शुभकामनाओं के साथ इस पिटिशन को साइन किया है।”

शशि थरूर ने अपनी पोस्‍ट में कहा है कि उन्‍हें जो जिम्‍मेदारी मिलेगी, वह उसे पूरी क्षमता से निभाएंगे। उन्‍होंने लिखा, ”मैं सिर्फ कांग्रेस पार्टी का एक सांसद हूं। पार्टी में एक नेतृत्‍व है और जब परिवर्तन होता है तो एक तरीके से होता है। जिन्‍होंने मुझपर भरोसा जताया है, मैं उन्‍हें विश्‍वास दिलाता हूं कि मैं बेहतर भारत के लिए काम करता रहूंगा। मैं संसद में, तिरुवनंतपुरम में, पूरी क्षमता से काम करता रहूंगा। मुझे पार्टी प्‍लेटफॉर्म पर राष्‍ट्रीय व अंतर्राष्‍ट्रीय मंच पर जो भी जिम्मेदारी मिलेगी, मैं उसका निर्वहन करूंगा।”

”एक बार फिर, मुझ पर भरोसे और साथ के लिए सबका शुक्रिया अदा करता हूं और गुजारिश करूंगा कि याचिका वापस ले ली जाए।”

संबंधित वीडियो देखें:

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App