ताज़ा खबर
 

शाहीन बाग: पुलिस की अपील बेअसर, हजारों प्रदर्शनकारी अब भी सड़क पर डटे; तैयार हुआ लंगर

Shaheen Bagh Protest CAA-NRC: शाहीन बाग प्रोटेस्ट को लेकर दिल्ली हाई कोर्ट ने मंगलवार को दिल्ली पुलिस और केंद्र सरकार को आदेश दिया गया था कि वह कानून के मुताबिक फैसला ले और जनहित को ध्यान में रखे।

Author Updated: January 16, 2020 6:40 AM
शाहीन बाग प्रोटेस्ट फोटो- इंडियन एक्सप्रेस

Shaheen Bagh Protest CAA-NRC: देश की राजधानी दिल्ली के शाहीन बाग इलाके में पिछले 32 दिनों से CAA और NRC के खिलाफ लगातार विरोध प्रदर्शन जारी है। हालांकि कोर्ट केस होने के बाद दिल्ली पुलिस प्रदर्शनकारियों से सड़क खाली करने की अपील कर रही है, लेकिन लोग अभी भी डटे हुए हैं। बुधवार (15 जनवरी) को यहां प्रदर्शनकारियों के लिए एक बड़ा लंगर तैयार किया गया। गौरतलब है कि 15 दिसंबर से हजारों की संख्या में लोग शाहीन बाग इलाके में जुटे हुए हैं। जिसको लेकर स्थानीय लोगों ने आपत्ति जताई थी, सड़क बंद होने के चलते उनको खासी दिक्क्तों का सामना करना पड़ रहा है।

तैयार हुआ लंगर: बताया जा रहा है कि दिल्ली पुलिस ने इन प्रदर्शनकारियों से सड़क को खाली करने की अपील की थी लेकिन इसे अनजरअदांज कर दिया। जिसके बाद आज दोपहर को यहां जब प्रदर्शन जारी था तो वॉलिंटियर्स ने लोगों के लिए लंगर तैयार किया और खिलाया। गौरतलब है कि शाहीन बाग प्रोटेस्ट को लेकर दिल्ली हाई कोर्ट ने मंगलवार को दिल्ली पुलिस और केंद्र सरकार को आदेश दिया गया था कि वह कानून के मुताबिक फैसला ले और जनहित को ध्यान में रखे।

मणिशंकर ने किया सपोर्ट: कांग्रेस नेता शशि थरूर के बाद मणिशंकर अय्यर भी शाहीन बाग इलाके में नागरिकता कानून और एनआरसी के खिलाफ प्रदर्शन में शामिल हुए। अय्यर ने मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि उन्होंने ‘सबका साथ और सबका विकास’ के वादे पर चुनाव लड़ा, मगर उन्होंने ‘सबका साथ और सबका विनाश’ किया।

सड़क जाम होने से लोगों को दिक्क्त: शाहीन बाग में आज भी विरोध प्रदर्शन जारी है। हाईकोर्ट के आदेश के बाद दिल्ली पुलिस ने प्रदर्शनकारियों से हटने की अपील की है, लेकिन प्रदर्शनकारी हटने को अपील मानने को तैयार नहीं हैं। विरोध में शामिल लोगों का कहना है कि पहले इस कानून को वापस लिया जाए, उसी के बाद हम हटेंगे। इस बीच पंजाब से भारतीय किसान यूनियन के कई प्रदर्शनकारियों बुधवार को यहां पर पहुंचे और विरोध प्रदर्शन किया। स्थानीय लोगों का कहना है कि जाम होने की वजह से घंटों बर्बाद कर उन्हें दूसरे रास्ते से अपने गंतव्य तक जाना पड़ता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 मुंबई-नासिक हाइवे पर भीषण सड़क हादसा, CM उद्धव ठाकरे के रिश्तेदार की मौत; 3 अन्य बुरी तरह घायल
2 DSP अरेस्ट केसः देविंदर सिंह और संसद हमले की साजिश पर चिट्ठी में क्या लिख छोड़ गया था अफजल गुरु? जानें
3 Army Day पर दिखा भारतीय सेना का शौर्य, जनरल नरवणे बोले- आतंक की नकेल कसने में हिचकिचाएंगे नहीं
ये पढ़ा क्या?
X