ताज़ा खबर
 

शाहीन बाग में बुर्का पहन र‍िकॉर्ड‍िंग करने गई थी लड़की? कैमरे के साथ धराई तो होने लगी तरह-तरह की बातें

बताया जाता है क‍ि युवती दक्ष‍िणपंथी व‍िचारधारा वाली है। उसने अपने ट्वि‍टर हैंडल पर जानकारी दी थी क‍ि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ट्विटर पर उसे फॉलो करते हैं। न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक दिल्ली पुलिस ने युवती से थोड़ी देर के लिए पूछताछ भी की।

shaheen bhaghबताया जाता है कि युवती यूट्यूबर है। वह पूर्व में ‘पहल इंडिया फाउंडेशन’ में विश्लेषक के तौर पर काम कर चुकी है। वह ‘द वायर’ के लिए दो आर्टिकल लिख चुकी है।

सीएए और प्रस्‍ताव‍ित एनआरसी के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन का केंद्र बने दिल्ली के शाहीन बाग में उस वक्त हंगामा शुरू हो गया जब प्रदर्शनकारियों ने बुर्के में एक संदिग्ध युवती को पकड़ा। युवती बुर्के में कैमरा छिपाकर वीडियो बनाते हुए पकड़ी गई। दरअसल, बुर्का पहनी युवती बुधवार (5 फरवरी, 2020) को प्रदर्शनकारी महिलाओं के बीच बैठकर उनसे कुछ सवाल कर रही थी। तभी प्रदर्शनकारी महिलाओं को उस पर शक हुआ और उसकी तलाशी ली गई। तलाशी में उसके पास से कैमरा निकला।

बताया जाता है कि युवती यूट्यूबर है। वह पूर्व में ‘पहल इंडिया फाउंडेशन’ में विश्लेषक के तौर पर काम कर चुकी है। वह ‘द वायर’ के लिए दो आर्टिकल लिख चुकी है और अभी यूट्यूब पर अपने चैनल के लिए वीडियो बनाती है। बताया जाता है क‍ि युवती दक्ष‍िणपंथी व‍िचारधारा वाली है। उसने अपने ट्वि‍टर हैंडल पर जानकारी दी थी क‍ि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ट्विटर पर उसे फॉलो करते हैं। न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक दिल्ली पुलिस ने युवती से थोड़ी देर के लिए पूछताछ भी की। खुफिया तौर पर युवती द्वारा वीडियो बनाए जाने पर मामला सोशल मीडिया में भी ट्रेंड करने लगा है।

सोशल मीडिया यूजर्स भी मामले में जमकर प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। कॉमन मैन @CommonSense नाम से ट्विटर यूजर लिखते हैं, ‘उसे पकड़ लिया गया और पाकिस्तानी सैनिकों द्वारा जैसे अभिनंदन से पूछताछ की गई ठीक वैसे ही उससे पूछताछ की गई।’ रितेश तक @Ritesh006 लिखते हैं, ‘मतलब अब अगर कोई महिला बुर्का भी पहन लें तो भी ये लोग उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई कर लेंगे। वाह रे वाह समझ के ठेकेदारों। विनाश काले विपरीत बुद्धि।’ रवि लिखते हैं, ‘प्रदर्शन इन दिनों काफी फनी हो गए हैं।’

हेरम्ब निगम @HerambBhartiya लिखते हैं, ‘शाहीन बाग सार्वजनिक जगह है या निजी संपत्ति?’ बता दें कि युवती का एक वीडियो भी सोशल मीडिया में खूब वायरल हो रहा, जिसमें मह‍िलाएं उससे सवाल पूछती नजर आ रही है। वायरल वीडियो में प्रदर्शनकारी महिला युवती से पूछ रही हैं कि उसने बुर्का अपनी मर्जी से पहना या किसी के कहने पर ऐसा किया। क्या उसने किसी संगठन के कहने पर ऐसा किया है। वीडियो में एक शख्स युवती के किसी मीडिया संस्थान से जुड़े होने पर भी सवाल पूछा रहा है।

वहीं जर्नलिस्ट रोहिणी सिंह @rohini_sgh लिखती हैं, ‘शाहीन बाग की महिलाओं ने उसे भीड़ से बचा लिया। अमित शाह की रैली में भीड़ ने नारे लगाने के लिए एक युवक की खूब पिटाई की। अंतर साफ है।’

मोहम्मद जुबैर @zoo_bear लिखते हैं, ‘पीएम मोदी द्वारा फॉलो की जानी वाली युवती शाहीन बाग में बुर्का पहने धरी गई।’ कांग्रेस से जुड़े गौरव राठी @GauravPandhi ट्वीट कर लिखते हैं, ‘तो अब भाजपा ने इस युवती को बुर्का पहनाकर शाहीन बाग भेजा ताकि ना सिर्फ फर्जी वीडियो बनाकर महिला प्रदर्शनकारियों को बदनाम किया जाए बल्कि चुनाव से पहले अशांति भी पैदा की।’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Vodafone vs Reliance Jio vs Airtel: 56GB डेटा के साथ आता है यह प्लान, कीमत 250 रुपये से कम
2 अर्णब-कामरा विवादः Air India धोखे का ‘शिकार’, एक जैसे नाम की वजह से US के कुणाल कामरा को उड़ान भरने में हुई परेशानी
3 उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश पहुंचा कोरोना वायरस! हॉस्पिटल में भर्ती कराए गए संदिग्ध
IPL 2020 LIVE
X