ताज़ा खबर
 

‘शाहीन बाग प्रदर्शन’ पर भड़के BJP नेता, बोले- ‘वहां बैठे ज्यादातर लोग बांग्लादेशी और पाकिस्तानी’

बीजेपी के नेता राहुल सिन्हा ने शाहीन बाग पर हमला करते हुए कहा कि 'शाहीन बाग में बैठे ज्यादातर लोग वो हैं जो या तो बांग्लादेश से आए हैं या पाकिस्तान से।'

बीजेपी नेता राहुल सिन्हा।

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ शाहीन बाग में चल पिछले एक महीने से विरोध चल रहा है। यह विरोध प्रदर्शन इन दिनों देश के सियासत का केंद्र बिंदु बन चुका है। केंद्र सरकार इस प्रदर्शन को लेकर विपक्ष पर तीखी टिप्पणी कर रही है। वहीं दूसरी तरफ विपक्षी पार्टी इस विरोध प्रदर्शन को समर्थन कर रही है। इसी बीच बीजेपी के नेता राहुल सिन्हा ने शाहीन बाग पर हमला करते हुए कहा कि ‘शाहीन बाग में बैठे ज्यादातर लोग वो हैं जो या तो बांग्लादेश से आए हैं या पाकिस्तान से।’

भारत को अलग करने लिए प्रदर्शन किया जा रहा: दरअसल राहुल सिन्हा ने अपने समर्थकों को संबोधित करते हुए कहा कि जो वहां भारत के झंडे फ्लैग के साथ प्रदर्शन कर रहे हैं। राष्ट्रीय दलों के नेता जाकर वहां समर्थन कर रहे है। हम लोगों ने देखा कि वहां से कुछ दिनों पहले ही एक वीडियो वायरल हुआ था जिसमे असम को भारत से अलग करने की बात कही गई थी। भारत को एकजुट करने के बजाए, भारत को अलग करने लिए प्रदर्शन किया जा रहा है।

Hindi News Live Hindi Samachar 28 January 2020: देश-दुनिया की तमाम खबरे पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

शरणार्थियों को भगाना चाहती है ममता: बता दें कि सोमवार (27 जनवरी) पंश्चिम बंगाल की टीएमसी सरकार ने सीएए के विरोध में प्रस्ताव पारित किया है। इसके जवाब में बीजेपी नेता राहुल सिन्हा ने कहा कि ममता हमारे देश के शरणार्थियों को भगाना चाहती है। उनके बदले पाक बांग्ला के घुसपैठियों को शरण देना चाहती है। टीएमसी और कांग्रेस शरणार्थी विरोधी पार्टी है। ये पश्चिम बंगाल की विधानसभा में प्रमाणित हो गया।

 केंद्रीय मंत्री ने बोला था हमला: गौरतलब है कि इससे पहले बीजपी के कई नेता शाहीन बाग पर तीखी टिप्पणी कर चुके है। बीजेपी नेता व केंद्रीय मंत्री रविशकर प्रसाद ने सोमवार (27 जनवरी) को प्रेस कांफ्रेस कर कहा था कि इस विरोध प्रदर्शन को टुकड़े-टुकड़े गैंग द्वारा समर्थन किया जा रहा है। इस पर दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने पलटवार करते हुए कहा था कि बीजेपी नेताओं को तुरंत शाहीन बाग का दौरा करना चाहिए और लोगों से बात करनी चाहिए इसके बाद जल्द सड़क को फिर से खोल देना चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 ‘ये लोग आपके घरों में घुसेंगे, आपकी बहन-बेटियों से रेप करेंगे…’ शाहीन बाग प्रदर्शन पर बोले भाजपा सांसद
2 Delhi Elections 2020: पैसे में आगे तो पढ़ाई में हुए पीछे, 2015 के मुकाबले आप और भाजपा में घटी ग्रेजुएट उम्मीदवारों की संख्या
3 Weather Forecast, Temperature: दिल्ली-नोएडा के कई इलाकों में हल्की बारिश, कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में बर्फबारी