ताज़ा खबर
 

गौतम बुद्ध नगर : एक महीने में बढ़े सात गुना अधिक मरीज

इस महीने तीन दिन ऐसे रहे जब 20 से अधिक मरीज संक्रमित मिले। वहीं, आठ दिनों के अंदर पांच मौत हुईं। अब धीरे-धीरे जिले में संक्रमित मरीजों का आंकड़ा फिर बढ़ रहा है। लोग सावधानी कम बरत रहे हैं।

Author नोएडा | Updated: June 2, 2020 4:51 AM
Coronavirus, Coronavirus in summer season, Coronavirus Research, Coronavirus during summer season, coronavirus and summer season, tips for summer season, health tips for summer season, health tips for Coronavirus during summer season, experts on Coronavirus, icmr on Coronavirus, coronavirus patients, coronavirus in india, coronavirus patients in india, coronavirus outbreak, coronavirus pandemic, coronavirus lockdown, covid-19, coronavirus symptoms, coronavirus causes, coronavirus cure, coronavirus prevention, coronavirus precautions, WHO on coronavirusदेश में कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं।

जिले में पूर्णबंदी के बीच जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के दावे फेल होते नजर आ रहे हैं। पिछले एक महीने के आंकड़ों पर नजर डालें तो मरीजों की ठीक होने की दर (रिकवरी रेट) घटने लगी है, वहीं मई महीने में मरीजों की संख्या सात गुना अधिक बढ़ गई है। सिर्फ मई के महीने में मरीजों की संख्या 276 है। अप्रैल के मुकाबले मरीजों की संख्या ढाई गुना से अधिक है। यहीं नहीं, मई में सात कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत भी हुई है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. दीपक ओहरी के मुताबिक भविष्य की चुनौतियों से निपटने की तैयारी चल रही है। जून महीने में एक और कोविड अस्पताल तैयार हो जाएगा। इसके अलावा लगातार शिविर लगाकर लोगों की स्वास्थ्य जांच की जा रही है। संदिग्ध मरीजों के नमूने लेकर जांच की जा रही है।

जिला प्रशासन ने मार्च महीने से शुरू हुई पूर्णबंदी के दौरान संक्रमण को फैलने से रोकने पर काफी हद तक लगाम लगाई थी लेकिन जैसे-जैसे वक्त बीतने लगा स्वास्थ्य विभाग की तैयारियों पर कोरोना का संक्रमण हावी होने लगा। अप्रैल के मुकाबले मई में स्वस्थ्य होने की दर घटी है। मई में एक दिन में सबसे अधिक 49 मरीजों की पुष्टि की गई।

इस महीने तीन दिन ऐसे रहे जब 20 से अधिक मरीज संक्रमित मिले। वहीं, आठ दिनों के अंदर पांच मौत हुईं। अब धीरे-धीरे जिले में संक्रमित मरीजों का आंकड़ा फिर बढ़ रहा है। लोग सावधानी कम बरत रहे हैं और पूर्णबंदी से छूट मिलने के पहले चरण में बगैर सावधानी बरते घूम रहे हैं। डॉक्टरों की सलाह है कि लोगों को जून महीने में सबसे अधिक सतर्क रहने की जरूरत है। क्योंकि लगातार मामलों में बढ़ोतरी हो रही है। इसलिए लोगों को अब खुद से ही सावधान रहना होगा।

17 नए संक्रमितों के साथ 470 हुआ आंकड़ा
गौतम बुद्ध नगर जनपद में संक्रमण की रफ्तार बढ़ती जा रही है। सोमवार को 17 नए संक्रमित मरीज मिले। यहा आंकड़ा 470 पहुंच गया है। इसमें 299 मरीज ठीक होकर घर जा चुके हैं। 164 सक्रिय संक्रमितों का इलाज विभिन्न अस्पतालों में किया जा रहा है। वहीं, कोविड-19 संक्रमित सात लोगों की मौत हो चुकी है।

नियमों का उल्लघंन करने पर मामला दर्ज
सोमवार को सीएमओ की टीम ने औचक निरीक्षण कर सेक्टर-30 स्थित एनएमसी अस्पताल के सामने एक व्यक्ति को कोविड-19 का नमूना लेते हुए पकड़ा। बताया गया कि यह व्यक्ति दिल्ली की प्रोगनसिस प्रयोगशाला के लिए काम करता है। यह दो पहिया वाहन से जिसमें सभी तरह के साजो-सामान लेकर दिल्ली से नोएडा आता है और लोगों के नमूना लेता है। जांच में पाया गया कि यह बायो मेडिकल वेस्ट मैनेजमेंट के नियमों का उल्लघंन कर रहा है। ऐसे में इसके खिलाफ थाना सेक्टर-20 में मामला दर्ज कराया गया है।

फरीदाबाद में 45 नए मामलों के साथ 416 मरीज
फरीदाबाद में कोरोना संक्रमितों की संख्या 416 हो गई है। दोनों राज्यों की सीमाएं सील होने के बावजूद राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में गुरुग्राम, फरीदाबाद, सोनीपत और झज्जर में कोरोना विषाणु संक्रमण थमने का नाम नहीं ले रहा। सोमवार को दिल्ली से सटे इन जिलों में अब तक का सबसे बड़ा इजाफा हुआ है।

गुरुग्राम में 129, फरीदाबाद में 45, सोनीपत में 13 ,पलवल में ग्यारह और झज्जर में चार कोरोना संक्रमितों की पुष्टि हुई है। इन चारों जिला में कोरोना संक्रमित की संख्या 1705 हो गई है। पूरे हरियाणा में 2356 कोरोना संक्रमित है। दिल्ली हरियाणा सीमा विवाद मे उलझी सरकारें कोरोना फैलाव को रोकने में ना काम साबित हो रही है।

उप सिविल सर्जन एवं जिला नोडल अधिकारी-कोरोना डा. रामभगत ने बताया कि जिला में सोमवार को 45 नए कोरोना संक्रमण के मामले सामने आए हैं। उन्होंने अब तक 12207 यात्रियों को सर्विलांस पर लिया जा चुका है, जिनमें से 4253 लोगों का निगरानी में रखने का 28 दिन का समय पूरा हो चुका है। बाकी 7678 लोग निगरानी में हैं। कुल निगरानी में रखे गए लोगों में से 11815 घरों में एकांतवास हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 दिल्ली-एनसीआर सीमा पर हालात: मालिक न श्रमिक, कोई नहीं पहुंच पा रहा काम पर
2 आम जनता बताएगी, सीमा खोलें या नहीं : अरविंद केजरीवाल
3 उद्योग-धंधों का हाल-बेहाल: अर्थव्यवस्था पर भारी मजदूरों की घर वापसी