बाइडन का हवाला दे बोले रजत शर्मा- वैक्सीन को देशभक्ति से जोड़ें तो हारेगा कोरोना, यूजर्स ने यूं लिए मजे

यूजर्स बोले, टीवी पर महंगाई, बेरोजगारी और शिक्षा पर भी कभी कुछ बोल देते तो वह भी देश भक्ति दिखाने का अच्छा माध्यम होता।

Srinagar, Man Dead for 60 Years, Shots of Vaccine, Corona
सीरिंज में कोरोना टीका भरतीं हेल्थ वर्कर। (फोटोः पीटीआई)

वैक्सीन लगवाने को लेकर दुनिया भर में तमाम तरह की अफवाहें फैल रही हैं। कई जगह वैक्सीन की कमी है तो कई अन्य जगह लोग वैक्सीन लगवाना नहीं चाह रहे हैं। ऐसे स्थानों में भारत भी है। यहां पर कई लोग वैक्सीन को खतरनाक मानकर उससे बच रहे हैं, हालांकि जो लोग लगवाना चाह रहे हैं, उनको वैक्सीन की कमी की वजह से समय पर लग नहीं पा रहा है।

वरिष्ठ पत्रकार रजत शर्मा ने लोगों को प्रेरित करने के लिए ट्विटर पर अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन का उदाहरण दिया। बताया कि जो बाइडन ने अमेरिका से एक अच्छी बात कही है। “वैक्सीन देशभक्ति जताने का सबसे बेहतर माध्यम है। आप वैक्सीन लगवा कर देशभक्ति का प्रदर्शन कर सकते हैं।” रजत शर्मा ने कहा कि अगर हम भी अपने लोगों में यही भावना पैदा कर सकें, वैक्सीन को देशभक्ति से जोड़ सकें तो कोरोना के ख़िलाफ़ लड़ाई में बहुत मदद मिलेगी।

हालांकि उनके ट्वीट पर कई लोगों ने कमेंट भी किए। राहुल शर्मा @rahuljkas नाम के एक यूजर ने लिखा, “इंडिया में तो लोग वैक्सीन लगवाना चाहते हैं पर मिल नहीं रही है।”

अमृता त्रिपाठी @SamajseviAmrita ने कहा, “आप पेट्रोल डीज़ल की महंगाई का मुद्दा अपने प्राइम टाइम शो में उठा कर भी देशभक्ति दिखा सकते हैं!”

इरफान शेख @IrfanSh50583458 ने कहा, “सर स्कूल कालेज कब ओपन होंगे, इस पर आप लोगों में से कोई भी बात करने को राजी नहीं है। देश तो वैसे ही अंधकार में चला जाएगा, अगर शिक्षा ही नहीं होगी ढंग की और काफी टीचर जो प्राइवेट स्कूल में जॉब करते है उनके बारे में भी सोचा।”

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कोविड-19 से अपने प्रियजनों को खोने वाले परिवारों को वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए मंगलवार को एक सामाजिक सुरक्षा योजना और ऑनलाइन पोर्टल की शुरुआत की। उन्होंने अधिकारियों से पीड़ितों के आवेदन में कमियां नहीं तलाशने का निर्देश दिया।

‘मुख्यमंत्री कोविड-19 परिवार आर्थिक सहायता योजना’ के तहत कोविड-19 से अपने परिजन को खोने वाले प्रत्येक परिवार को 50,000 रुपये की अनुग्रह राशि दी जाएगी। इसके अलावा अगर व्यक्ति परिवार में एकमात्र कमाने वाला था तो उसके परिवार को मासिक 2,500 रुपये की अतिरिक्त मदद दी जाएगी।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट