ताज़ा खबर
 

योग के दौरान फिसले पूर्व यूनियन मिनिस्टर ऑस्कर फर्नान्डिस, ICU में एडमिट

1984 में इंदिरा गांधी की हत्या के बाद राजीव गांधी ने कमान संभाली तो इस दौरान अहमद पटेल, अरुण सिंह और ऑस्कर फर्नान्डिस उनके संसदीय सचिव चुने गए। तीनों की जोड़ी बॉलीवुड फिल्म अमर, अकबर, एंथनी की जोड़ी के नाम से जानी जाने लगी।

कांग्रेस नेता आस्कर फर्नान्डिज (फोटोः ट्विटर@ANI)

पूर्व केंद्रीय मंत्री ऑस्कर फर्नान्डिस को 19 जुलाई को मंगलुरु के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है, उनका इलाज ICU में चल रहा हैं। फर्नान्डिस कर्नाटक से राज्यसभा सदस्य हैं। 80 वर्षीय वरिष्ठ कांग्रेस नेता रविवार को अपने घर में योग करते हुए फिसल गए थे।

सूत्रों के अनुसार सोमवार को जब वह डायलिसिस के लिए निजी अस्पताल गए तो उन्होंने घटना की जानकारी डॉक्टरों को दी। उसके बाद परीक्षण किए गए और फर्नान्डिस को इलाज के लिए ICU में भर्ती कर दिया गया। डॉक्टरों का कहना है कि उनका उपचार किया जा रहा है। फर्नान्डिस को योगाभ्यास के दौरान गिरने से मस्तिष्क में आई अंदरूनी चोट के इलाज के लिए ICU में अस्पताल में भर्ती कराया गया। डॉक्टरों ने कहा कि उनकी तुरंत सर्जरी करने की जरूरत है। फिलहाल उनकी हालत स्थिर है।

फर्नान्डिस के परिवार के लोगों ने इस बारे में बताया कि रविवार सुबह योग करते हुए समय उनका संतुलन बिगड़ गया और वह गिर गए। उस समय उन्होंने इसे गंभीरता से नहीं लिया। हालांकि जब वह नियमित जांच के लिए उसी शाम अस्पताल पहुंचे तो डॉक्टरों ने पाया कि उनके मस्तिष्क के भीतरी हिस्से में चोट है।

गौरलतब है कि राजीव गांधी के कार्यकाल में वो कांग्रेस की तिकड़ी का अहम हिस्सा रहे थे। 1984 में इंदिरा गांधी की हत्या के बाद राजीव गांधी ने कमान संभाली तो इस दौरान अहमद पटेल, अरुण सिंह और ऑस्कर फर्नान्डिस उनके संसदीय सचिव चुने गए। तीनों ने एक साथ शपथ ली। इसके बाद से ही तीनों की जोड़ी बॉलीवुड फिल्म अमर, अकबर, एंथनी की जोड़ी के नाम से जानी जाने लगी। अमर के रूप में अरुण सिंह, अकबर के रूप में अहमद पटेल और एंथनी के रूप में ऑस्कर फर्नान्डिस को जाना जाता था।

उसके बाद मनमोहन सिंह की सरकार में फर्नान्डिस ने केंद्रीय परिवहन, सड़क और राजमार्ग मंत्री की भूमिका निभाई थी। साथ ही साथ उनको श्रम एवं रोजगार मंत्रालय का कार्यभार भी दिया गया था। उडुपी के रहने वाले फर्नान्डिस 1980 के दशक के अंत में कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस कमेटी के भी अध्यक्ष रह चुके हैं।

1983 और 1997 के बीच वो पांच बार लोकसभा सांसद रहे। फर्नान्डिस राज्यसभा के लिए पहली बार 1988 मे चुने गए थे। आखिरी बार वो तब चर्चाओं में आए जब नेशनल हेराल्ड केस में सोनिया व राहुल के साथ उन्होंने भी हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी। वो इनकम टैक्स की कार्रवाई के खिलाफ हाईकोर्ट में पहुंचे थे।

Next Stories
1 कांग्रेस नेता का मोदी सरकार पर निशाना, बोले- रामदेव की कोरोनिल लॉन्च करने वाले स्वास्थ्य मंत्री भी कम नहीं थे
2 ‘अभी हमारे पास ऑक्सीजन की कमी से मौतों के आंकड़े नहीं’, भाजपा के आरोपों पर बोले मनीष सिसोदिया
3 किसानों ने सांसदों को जारी किया ‘व्हिप’, राकेश टिकैत बोले- समर्थन करने वाले दल कैसे उठाएंगे आवाज, हम देख रहे हैं
यह पढ़ा क्या?
X