ताज़ा खबर
 

केंद्र सरकार ने बढ़ाई शत्रुघ्न सिन्हा की सुरक्षा, अब ट्विटर पर मोदी के खिलाफ नहीं साध रहे निशाना

बीते करीब 15 दिनों से शॉटगन खामोश हैं। न तो ट्विटर अकाउंट से और न ही फेसबुक अकाउंट पर उन्होंने सरकार के खिलाफ कोई ​बयान दिया है। इससे उम्मीद बढ़ी है कि शायद भाजपा और बिहारी बाबू के बीच पहले जैसी सुलह हो जाए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी सासंद शत्रुघ्न सिन्हा (पीटीआई फाइल फोटो/एक्सप्रेस फाइल फोटो)

शॉटगन और बिहारी बाबू के नाम से मशहूर भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा इन दिनों खामोश हैं। 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार बनने के बाद से लेकर अब तक शत्रुघ्न सिन्हा अपनी ही पार्टी पर हमलावर हैं। वह लगातार पीएम की नीतियों के भी मुखर आलोचक रहे हैं। लेकिन बीते करीब 15 दिनों से शॉटगन खामोश हैं। न तो ट्विटर अकाउंट से और न ही फेसबुक अकाउंट पर उन्होंने सरकार के खिलाफ कोई ​बयान दिया है। इससे उम्मीद बढ़ने लगी है कि शायद भाजपा आलाकमान और बिहारी बाबू के बीच पहले जैसी सुलह हो जाए।

बदल गए हैं BJP के भी सुर: शत्रुघ्न सिन्हा की खामोशी से ज्यादा चौंकाने वाली बात भाजपा नेताओं के सुर अचानक उनके बारे में बदलना है। बिहार में भाजपा के प्रवक्ता प्रेम रंजन पटेल ने कहा,”शत्रुघ्न सिन्हा पार्टी के पुराने और वफादार कार्यकर्ता हैं। हो सकता है कि उनकी नाराजगी किसी बात को लेकर होगी। लेकिन वह पार्टी के विरोध में नहीं जा सकते हैं और पार्टी भी उनको सम्मान देने में कोई कमी नहीं छोड़ेगी।”

राजद के इफ्तार में हुए थे शामिल: सिर्फ एक महीना पहले ही यानी कि बीते 13 जून को पटना में राष्ट्रीय जनता दल ने इफ्तार पार्टी का आयोजन किया था। इस पार्टी में शत्रुघ्न सिन्हा ने शिरकत की थी। पार्टी के बाद राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की बड़ी बेटी मीसा भारती ने बयान दिया था कि शत्रुघ्न सिन्हा, भाजपा के शत्रु हैं, हमारे नहीं। अगर वह राजद में आना चाहें तो हम उन्हें उनकी परंपरागत पटना साहिब सीट से टिकट देने के लिए तैयार हैं।” विरोधी पार्टियों के इस खुले न्यौते ने बिहार भाजपा में बेचैनी बढ़ा दी ​थी। 14 जून को भाजपा प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय ने शत्रुघ्न सिन्हा को चेतावनी देते हुए कहा था,”शत्रुघ्न के पार्टी में अब गिनती के दिन बचे हैं। सही समय का इंतजार कीजिए, जब उनके ऊपर कार्रवाई की जाएगी।”

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बेटों तेजश्वी प्रसाद और तेज प्रताप के साथ भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा। फोटो- पीटीआई

गृह मंत्रालय ने बढ़ाई सुरक्षा: वैसे बता दें कि 15 दिन पहले ही गृह मंत्रालय ने सांसद शत्रुघ्न सिन्हा की जान को खतरा बताते हुए उनकी सुरक्षा बढ़ाने का आदेश दिया था। गृह मंत्रालय ने बिहार की पटना साहिब सीट से सांसद शत्रुघ्न सिन्हा की सुरक्षा की समीक्षा करने के बाद ये फैसला किया था। नए आदेश के मुताबिक शत्रुघ्न सिन्हा को वाई प्लस श्रेणी की सुरक्षा देने का निर्देश दिया गया है। वाई प्लस श्रेणी के तहत 11 सुरक्षाकर्मी 24 घंटे उनकी सुरक्षा में तैनात रहेंगे। गृह मंत्रालय ने बिहार और महाराष्ट्र सरकार को सुरक्षा मुहैया करवाने का निर्देश दिया है। गृह मंत्रालय के आदेश के बाद बिहार पुलिस की खुफिया शाखा ने सभी जिलों के डीएम-एसपी को सुरक्षा इंतजामों के मद्देनजर पत्र जारी किया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App