ताज़ा खबर
 

बीजेपी एमपी साध्वी प्रज्ञा पर केस, पत्रकारों से कहा था- सब बेईमान हो, एक भी ईमानदार नहीं है

प्रज्ञा ठाकुर मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन के चलते एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने अपने संसदीय क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले सीहोर जिले में पहुंची थीं। इस दौरान उन्होंने टीवी रिपोर्टर्स को संबोधित करते हुए कहा, 'कोई ईमानदार नहीं है।'

NIA, Malegoan blast case, sadhvi pragya thakur, bjp, nia special court, bharatiya janata party, bombay high court, nia special judge, national investigation agencyबीजेपी सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर। (PTI/File Photo)

मध्य प्रदेश के सीहोर जिले में स्थानीय पत्रकारों के एक समूह ने बुधवार को भोपाल से भाजपा सांसद प्रज्ञा ठाकुर के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। भाजपा सांसद ने हाल में कहा था कि जिले के सारे मीडियाकर्मी बेईमान हैं। दरअसल प्रज्ञा ठाकुर मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन के चलते एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने अपने संसदीय क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले सीहोर जिले में पहुंची थीं। इस दौरान उन्होंने टीवी रिपोर्टर्स को संबोधित करते हुए कहा, ‘कोई ईमानदार नहीं है।’ इसी बीच उनके एक सहयोगी ने चेतावनी देते हुए कहा, ‘दीदी कैमरे चालू हैं।’ इसके बावजूद उन्होंने अपना बयान जारी रखते हुए कहा, ‘मैं बोल रही हूं तुम सुने अपनी तारीफ। सीहोर जिले के सभी मीडियाकर्मी बेईमान हैं।’

सीहोर में भारतीय पत्रकार संघ के सचिव रघुवर दयाल गोहिया ने कहा, ‘हमने शिकायत में कहा है कि उन्हें अपने आरोपों को साबित करना चाहिए वरना उनके खिलाफ शिकायत दर्ज की जानी चाहिए।’ इसी बीच पत्रकारों ने धमकी दी है कि अगर वो अपने आरोपों को साबित नहीं करतीं तो पत्रकार उनका बहिष्कार करेंगे।

उल्लेखनीय है कि भाजपा सांसद पहले भी विवादित बयान दे चुकी हैं। उन्होंने महात्मा गांधी के हत्यारे को देशभक्त बताते हुए कहा, ‘गोडसे देशभक्त थे, हैं और रहेंगे। उनके आतंकवादी कहने वालों को खुद अपने गिरेबान में झांकना चाहिए। ऐसा बोलने वालों को इस चुनाव में जवाब दिया जाएगा।’ एक अन्य बयान में उन्होंने कहा कि अयोध्या में बाबरी मस्जिद के ढांचे को तोड़ने में उन्हें गर्व है।

उन्होंने कहा, ‘मैं खुद ढांचा गिराने गई थी। मुझे भगवान ने शक्ति दी थी। हमने देश का कलंक मिटाया है।’ हाल में एक बयान में कहा कि वह नाली साफ करने के लिए सांसद नहीं बनी हैं। शौचालय साफ करवाने के लिए सांसद बिल्कुल नहीं बनाए गए हैं।

Next Stories
1 CJI रंजन गोगोई के खिलाफ यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली सुप्रीम कोर्ट की पूर्व महिला कर्मचारी के खिलाफ केस बंद
2 रिपोर्ट: 27 सालों में दो-तिहाई घटा बच्चों में कुपोषण का मामला, मगर अभी भी पांच से साल से कम 68% बच्चे हैं देश में कुपोषित
3 सावरकर ने किया था जिन्ना का समर्थन, महात्मा गांधी की हत्या में भी थे आरोपी
यह पढ़ा क्या?
X