T-20 World Cup: आगरा में J&K के तीन स्टूडेंट्स अरेस्ट; बोले यूपी CM- PAK की जीत का जश्न मनाने वालों पर होगा देशद्रोह का केस

दरअसल, T-20 World Cup में भारत के पाकिस्तान से हारने के बाद सूबे के चार जिलों में कथित तौर पर देश विरोधी नारेबाजी हुई थी।

yogi adityanath, pakistan, sedition
दुबई में 24 अक्टूबर, 2021 को भारत और पाकिस्तान का मैच हुआ था। टी-20 विश्व कप के इस मुकाबले में पाकिस्तान ने 10 विकेट से जीत दर्ज की थी। (फाइल फोटोः पीटीआई/इंडियन एक्सप्रेस)

टी-20 विश्वकप मैच में पाकिस्तान की जीत पर जश्न मनाने के कश्मीरी मूल के तीन आरोपी छात्र उत्तर प्रदेश के आगरा में गिरफ्तार कर लिए गए हैं। इनके खिलाफ बुधवार (27 अक्टूबर, 2021) को ताज नगरी में मुकदमा दर्ज किया गया था। शहर के आरबीएस इंजीनियरिंग टेक्निकल कैंपस में पढ़ने वाले इन तीनों (सिविल इंजीनियरिंग में थर्ड ईयर स्टूडेंट अरशीद यूसुफ और इनायत अल्ताफ शेख व अंतिम वर्ष के शौकत अहमद गनी) छात्रों को प्रबंधन ने इससे पहले निलंबित कर दिया था, जिसको लेकर खासा हंगामा भी हुआ था।

थाना जगदीशपुरा में बुधवार को दर्ज प्राथमिकी के मुताबिक, आरोपी कश्मीरी छात्रों पर भादंसं की धारा 153 ए (विभिन्न समूहों के बीच वैमन्स्य को बढ़ावा देना), 505 (1) (बी) (आमजन के लिए भय पैदा करने का इरादा) के अलावा सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम की धारा 66एफ के तहत मुकदमा दर्ज किया गया। दरअसल, तीन छात्रों ने कथित तौर पर पाकिस्तान की जीत पर खुशी जाहिर की थी। आरोप है कि छात्रों ने व्हाट्सएप पर स्टेट्स लगाकर पाकिस्तान की जीत का समर्थन करते हुए देश विरोधी नारेबाजी भी की।

मंगलवार को मामला सोशल मीडिया में आने के बाद भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) के पदाधिकारियों ने कॉलेज पहुंचकर आरोपी छात्रों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए हंगामा शुरू कर दिया था। कार्यकर्ताओं ने थाना जगदीशपुरा में तहरीर भी दे थी। आरोप है कि युसुफ, शेख और गनी ने कैंपस में देश विरोधी नारेबाजी की थी। उन्होंने पाकिस्तान की जीत के समर्थन में अपना व्हाट्सएप स्टेटस लगाया। इसमें मैच के कुछ वीडियो भी शामिल थे।

इसी बीच, बीजेपी शासित उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि पाकिस्तान की जीत का जश्न मनाने वालों के खिलाफ देशद्रोह का केस होगा। सीएम ने ऐसे लोगों पर देशद्रोह का केस दर्ज किए जाने के निर्देश भी दे दिए हैं।

मुख्यमंत्री कार्यालाय (सीएमओ) की ओर से जारी बयान का हवाला देते हुए समाचार एजेंसी ANI ने बताया, “24 अक्टूबर को भारत-पाक मैच में पाकिस्तान की जीत के जश्न में पड़ोसी मुल्क समर्थित नारेबाजी के मामले में यूपी पुलिस ने पांच जिलों के सात लोगों पर आरोप लगाया है, जबकि चार को हिरासत में लिया गया है।” दरअसल, T-20 World Cup में भारत के पाकिस्तान से हारने के बाद सूबे के कुछ जिलों में कथित तौर पर देश विरोधी नारेबाजी हुई थी।

PAK के समर्थन में स्टेटस पर टीचर की गई नौकरी, अरेस्टः वहीं, राजस्थान के उदयपुर में रविवार को पाक की जीत पर खुशी जताते हुए व्हाट्सऐप संदेश पोस्ट करने वाली एक अध्यापिका को स्कूल से उसके निष्कासन के बाद बुधवार को गिरफ्तार कर लिया गया। नीरजा मोदी स्कूल की टीचर नफीसा अटारी ने पाक खिलाड़ियों की तस्वीर के साथ “जीत गए …हम जीत गए” कहते हुए स्टेटस अपडेट किया था।

J&K में भी हुई दो की गिरफ्तारीः उधर, जम्मू-कश्मीर के सांबा में भी दो और लोगों को मैच के बाद पाकिस्तान के समर्थन में नारेबाजी करने के आरोप में हिरासत में लिया गया। पुलिस ने इससे पहले श्रीनगर के करण नगर के राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय और एसकेआईएमएस के छात्रावास में रह रहे कुछ मेडिकल छात्रों के खिलाफ सख्त गैर कानूनी (निषेध) अधिनियम (यूएपीए) के तहत मामला दर्ज किया था। यह ऐक्शन सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद किया, जिसमें स्टूडेंट और अन्य पाक की जीत का जश्न मनाने के साथ आपत्तिजनक नारेबाजी करते दिखे थे।

SP, BSP और Congress कभी न होने देतीं मंदिर निर्माण’: यूपी सीएम ने बुधवार को यह भी कहा कि अगर सपा, बसपा या कांग्रेस सत्ता में होतीं तो अयोध्या में राम मंदिर कभी न बनने देतीं। गोंडा में 1132 करोड़ रुपए की 144 विकास योजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास के बाद वह बोले, “जो लोग पहले भगवान राम के अस्तित्व को नकारते थे, वे आज भगवान राम को अपना बता रहे हैं।” उन्होंने इसके साथ ही आतंकवाद को कांग्रेस की देन करार दिया।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
बैंक या फोन से आधार नंबर जोड़ना है तो ध्‍यान रखें ये बातें, वरना साफ हो सकता है खाते में जमा पैसा
अपडेट