ताज़ा खबर
 

CISE के 12वीं की परीक्षा दूसरे स्थान पर रही कीर्थना, चाहती हैं कंप्यूटर इंजीनियर बनना

कीर्थना का कहना है कि नियमित पढ़ाई और पाठ्यक्रम को बार-बार पढ़ने से यह मुकाम हासिल किया है।

Author नई दिल्ली | May 30, 2017 02:10 am
उनके दसवीं की परीक्षा में 98.20 फीसद अंक आए थे।

द काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशंस (सीआइसीएसई) की कक्षा 12 में अखिल भारतीय रैंकिंग में दूसरे स्थान पर और एनसीआर की टॉपर रहीं कीर्थना श्रीकांत भविष्य में कंप्यूटर इंजीनियर बनना चाहती है। गुरुग्राम के स्कॉटिश हाई इंटरनेशनल स्कूल में पढ़ने वाली कीर्थना के गणित, भौतिकी और कंप्यूटर साइंस में शत-प्रतिशत जबकि रसायन विज्ञान में उसके 95 और अर्थशास्त्र में 97 अंक मिले है। उनके सर्वश्रेष्ठ चार विषयों में 99.25 फीसद अंक हैं। कीर्थना के मुताबिक, उनके पिता एमएन श्रीकांत गुरुग्राम की ही एक कंपनी में इंजीनियर हैं, जबकि मां संध्या श्रीकांत गृहणी हैं। उनका परिवार मूल रूप से मैसूर का रहने वाला है।

कीर्थना का कहना है कि नियमित पढ़ाई और पाठ्यक्रम को बार-बार पढ़ने से यह मुकाम हासिल किया है। इसके अलावा यहां तक पहुंचने में शिक्षकों ने बहुत मदद की। नियमित पढ़ाई तो वह शुरू से पूरी मेहनत एवं लगन के साथ करती रही है, लेकिन दिसंबर के बाद उन्होंने अधिकतम समय सिर्फ पढ़ाई को ही दिया है। उन्होंने बताया कि मैं फेसबुक पर हूं लेकिन उसका बहुत कम इस्तेमाल करती हूं। उनका कहना है कि सोशल मीडिया बेहतर तरीके से उयोग किया जाए तो यह बहुत अच्छा माध्यम है। उन्होंने बताया कि उनके दसवीं की परीक्षा में 98.20 फीसद अंक आए थे। अब उन्होंने जेईई एडवांस्ड की प्रवेश परीक्षा में हिस्सा लिया है, लेकिन उसके परिणाम आने बाकी हैं। उन्हें फिल्में देखने का शौक है, हालांकि कोई अभिनेता या अभिनेत्री उसके पसंदीदा नहीं हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App