व‍िजय माल्‍या केस से अलग हुए जस्‍ट‍िस नरीमन, कहा- फूटी कौड़ी तक नहीं लौटाई

विजय माल्या भारतीय बैंकों का करीब 9 हजार करोड़ रुपए का कर्ज है।

vijay mallyaशराब कारोबारी विजय माल्या।

सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार (20 जनवरी, 2020) को भगोड़े कारोबारी विजय माल्या को कड़ी फटकार लगाते हुए कहा कि उसने बैंकों को दी जाने वाली धनराशि अभी तक लौटाई नहीं है। जस्टिस रोहिंटन नरीमन ने चीफ जस्टिस एसए बोबडे की अगुवाई वाली पीठ करने के समक्ष टिप्पणी करते हुए कहा कि अभी तक एक फूटी कौड़ी भी लौटाई नहीं गई। उन्होंने माल्या की याचिका पर भी रोक लगा दी। इसके साथ ही जस्टिस नरीमन ने मामले से खुद को अलग कर दिया। अब चीफ जस्टिस मामले की सुनवाई करने वाली नई पीठ का गठन करेंगे।

उल्लेखनीय है कि विजय माल्या ने पिछले साल जून में खुद के स्वामित्व वाली संपत्तियों को जब्त करने पर रोक लगाने के लिए सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर की थी। याचिका में तर्क दिया गया कि जांच एजेंसियों द्वारा उसके खिलाफ दायर किए गए आरोप निराधार हैं और केंद्र ने उसके पैसा लेने के प्रस्ताव से इनकार कर दिया।

हालांकि इस महीने की सुनवाई के दौरान केंद्र के दूसरे सबसे वरिष्ठ कानूनी अधिकारी तुषार मेहता ने जोर देकर कहा था कि माल्या और उनकी कंपनियां सालों से कह रहीं है कि कर्ज चुकाएंगे, मगर अभी एक पैसे का भी भुगतान नहीं किया गया है।

बता दें कि 12 बैंकों ने कर्नाटक हाईकोर्ट में याचिका दाखिल कर ईडी द्वारा जब्त की गई संपत्ति को बैंकों को सौंपने की गुहार लगाई है। माल्या ने इसी याचिका के विरोध में कोर्ट में अर्जी लगाई। जानना चाहिए कि विजय माल्या भारतीय बैंकों का करीब 9 हजार करोड़ रुपए का कर्ज है। शराब कारोबारी बैंकों का पैसा लौटाए बिना विदेश भाग गया और अभी इंग्लैंड में प्रत्यर्पण संबंधी प्रकियाओं से गुजर रहा है। पिछले साल ही स्पेशल कोर्ट ने उसे आर्थिक भगोड़ा घोषित किया था।

Next Stories
1 अखिलेश यादव ने दिया BSP को झटका! मायावती सरकार में मंत्री रहे राम प्रसाद चौधरी समेत कई नेता सपा में शामिल
2 NRC: NCP नेता का बयान- जब तेरा बाप अंग्रेजों के तलवे चाट रहा था…
3 Kerala Win Win Lottery W-548 Today Results: रिजल्‍ट जारी, इस टिकट नंबर को लगा है पहला इनाम
यह पढ़ा क्या?
X