ताज़ा खबर
 

Sarkari Naukri 2020: केंद्र सरकार में खाली पड़े हैं 7 लाख पद, जल्द भर सकती है नरेंद्र मोदी सरकार

Sarkari Naukri-Rresult, Central Government recruitment 2020, 7th Pay Commission News in Hindi: Department of Personnel & Training (कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग) इसके लिए सभी मंत्रालयों और विभागों को इससे पहले खत भी लिख चुका है।

7th Pay Commission: राजधानी नई दिल्ली में एक कार्यक्रम के दौरान कुछ कागज देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटोः प्रवीण खन्ना)

Sarkari Naukri-Rresult, Central Government recruitment 2020, 7th Pay Commission News in Hindi: देश की डंवाडोल अर्थव्यवस्था और कथित मंदी के दौर बीच 23 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली NDA सरकार ने कई सरकारी विभागों में रिक्त पदों का डेटा सार्वजनिक किया है।

जारी आंकड़ों के मुताबिक, लगभग सात लाख पद खाली हैं। इनमें सबसे अधिक Group C में नौकरियां हैं। ग्रुप सी कर्मचारियों को नौ हजार रुपए प्रति माह से 34,500 रुपए के बीच तक प्रति माह वेतन मिलता है। और, यह आंकड़ा पांच लाख 75 हजार के आस-पास है।

यही नहीं, Group B में लगभग 90 हजार और Group A में तकरीबन 20 हजार पद भरे जाने हैं। बता दें कि ग्रुप बी की नौकरियों में- Police Head Constables, Junior Engineers, TTEs, Tax Assiatnst, Stenographers और Typist आदि पद आते हैं।

इसी बीच, विभिन्न मीडिया रिपोर्ट्स में सूत्रों के हवाले से दावा किया गया कि सरकार ने इन पदों को भरने के निर्देश दिए हैं। ऐसे में कहा जा रहा है कि इन नौकरियों पर भर्तियों के लिए व्यवस्थित तरीके से भर्ती अभियान चलाया जा सकता है।

Department of Personnel & Training (कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग) इसके लिए सभी मंत्रालयों और विभागों को इससे पहले खत भी लिख चुका है। 21 जनवरी को इस बाबत लिखे गए पत्र में केंद्र के इन सात लाख पदों को जल्द से जल्द भरने के लिए उचित कदम उठाने के लिए कहा गया है।

कुछ रिपोर्ट्स में इसी लेटर के हवाले से बताया गया, “निवेश और विकास पर कैबिनेट की समिति की 23 दिसंबर 2019 को हुई बैठक में सभी मंत्रालयों/विभागों में खाली पड़े पदों को भरने का निर्देश दिया गया है।”

बताया गया कि सरकार ने ये पद भरने के लिए उठाए गए कदमों की रिपोर्ट भी मांगी है, जो कि संबंधित विभागों, मंत्रालयों और अधिकारियों को हर महीने पांचवे दिन सौंपनी होगी। वहीं, इसी माह की शुरुआत में Indian Railways ने 2.3 लाख वैकेंसियां खाली होने की बात मानी थी।

बता दें कि सरकार, संसद में नवंबर 2019 में बता चुकी है कि 2014 के बाद से कर्मचारियों की संख्या में गिरावट आई है, पर सैंक्शन किए गए पदों की संख्या में गिरावट आई है। यह आंकड़ा 1.57 लाख के करीब है।

सरकारी आंकड़े यह भी बताते हैं कि केंद्र सरकार में 1 मार्च, 2018 तक 31.81 लाख भर्तियां हुईं, जबकि 38 लाख पद रिक्त थे। केंद्र में सबसे बड़े स्तर पर भर्ती करने वाला या फिर नौकरी देने वाले भारतीय रेल में लगभग 2.5 लाख नौकरियां थीं। 1.9 लाख रिक्तियां रक्षा क्षेत्र में भी थीं, जबकि अन्य क्षेत्रों में भी नौकरियां थीं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 वाजपेयी जी के ड्रीम प्रोजेक्ट के लिए मोदी सरकार में फंड की कमी, खस्ताहाल में पहुंचा देश का 70% रोड नेटवर्क
2 RJD-JDU में पोस्टर वार! लालू की पार्टी ने नीतीश-सुशील मोदी को बताया ‘ट्रबल इंजन’, लिखा- लूट और झूठ एक्सप्रेस
3 CM उद्धव ने की 200 मुस्लिम नेताओं से मुलाकात, बोले-‘किसी को नहीं छोड़ना पड़ेगा देश’; जाएंगे अयोध्या
ये पढ़ा क्या?
X