ताज़ा खबर
 

Amit Shah हैं ‘कट्टर राष्ट्रवादी’, PM मोदी को नहीं दे सकता सलाह, लेकिन राहुल गांधी करें यह काम: संजय राउत

Amit Shah, Sanjay Raut: कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर संजय राउत ने कहा, ‘‘वह दिल के अच्छे हैं लेकिन उन्हें कम से कम 15 घंटे पार्टी कार्यालय में गुजारने चाहिए।’’

Author मुंबई | Updated: January 17, 2020 9:24 AM
भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और पीएम मोदी (एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

Amit Shah, Sanjay Raut, PM Modi, Rahul Gandhi: शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ‘‘कट्टर राष्ट्रवादी’’ हैं लेकिन उन्हें यह तथ्य समझना चाहिए कि देश में लोकतंत्र है। शिवसेना से राज्यसभा के सदस्य मीडिया समूह लोकमत की ओर से आयोजित पुरस्कार समारोह में बोल रहे थे। लोगों के साथ साक्षात्कार के दौरान उनसे कुछ लोकप्रिय नेताओं के गुण बताने और उन्हें कुछ सलाह देने को कहा गया था।

पीएम मोदी पर कही यह बात: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के बारे में संजय राउत ने कहा कि वह बहुत मेहनती व्यक्ति हैं। ‘‘मेरे पास उनका सलाह देने का अधिकार नहीं है। वह प्रधानमंत्री हैं।’’ इसके बाद राउत ने कहा, ‘‘लेकिन पत्रकार होने के नाते मैं कहूंगा कि उन्हें अपने साथ काम करने वालों के बीच क्या चल रहा है, इसकी खबर रखनी चाहिए।’’

गृहमंत्री अमित शाह को दी नसीहत: जब शाह की बारी आयी तो शिवसेना नेता ने कहा कि भाजपा अध्यक्ष ‘‘कट्टर राष्ट्रवादी’’ हैं और अनुच्छेद 370 हटाने जैसे उनके कुछ फैसले स्वागत योग्य हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन कुछ मामलों में उन्हें स्वीकार करना चाहिए कि देश में लोकतंत्र है और उन्हें विपक्ष के विचारों को समझना चाहिए।’’

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष को दी यह सलाह: कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर संजय राउत ने कहा, ‘‘वह दिल के अच्छे हैं लेकिन उन्हें कम से कम 15 घंटे पार्टी कार्यालय में गुजारने चाहिए।’’ बता दें कि इससे पहले राउत के इंदिरा गांधी पर दिए बयान के बाद सियासत गर्म हो गई थी। उन्होंने कहा था कि पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी मुंबई में पुराने डॉन करीम लाला से मिलने आती थीं। बकौल राउत ‘एक समय था जब दाऊद इब्राहिम, छोटा शकील, शरद शेट्ठी यह तय किया करते थे कि मुंबई का पुलिस कमिशनर कौन होगा? इतना ही नहीं यह लोग यह भी तय किया करते थे कि मंत्रालय में कौन बैठेगा?’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 शून्य बिजली का बिल क्या जीतेगा मतदाताओं का दिल?
2 भाजपा के फ्रेम में फिट नहीं हुए बड़े कांग्रेसी चेहरे
3 2012 गैंगरेप केस: दोषियों की फांसी की सजा पर दिल्ली सरकार ने कर दिया तिकड़म! कोर्ट ने की तीखी टिप्पणी
ये पढ़ा क्या?
X