ताज़ा खबर
 

संजय झा कांग्रेस से सस्पेंड, पार्टी विरोधी गतिविधियों पर हुई कार्रवाई; पायलट को सीएम बनाने की दी थी नसीहत

झा ने पार्टी द्वारा लिए गए ऐक्शन के कुछ ही मिनटों बाद माइक्रो ब्लॉगिंग साइट टि्वटर पर अपना बायो चेंज कर लिया। लिखा, "डीएनए से कांग्रेसी हूं। पर 'इंडिया नीड्स ए रीअवेंकेंड एंड रीवाइटलाइज्ड कांग्रेस, रेडी टू विन द सेकेंड फ्रीडम स्ट्रगल' लिखने को लेकर कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता पद से हटा दिया गया जा चुका है।"

Sanjay Jha, Congress, Sachin PilotCongress नेता संजय झा। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

Congress ने अपने नेता संजय झा को मंगलवार को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया। पार्टी ने उनके खिलाफ यह ऐक्शन पार्टी-विरोधी गतिविधियों को लेकर और अनुशासन के उल्लंघन को लेकर किया। महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस कमेटी की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्ति में प्रदेशाध्यक्ष बालासाहब थोराट की ओर से बताया गया, “संजय झा को कांग्रेस से तत्काल प्रभाव से पार्टी गतिविधियों और अनुशासन तोड़ने को लेकर सस्पेंड कर दिया गया है।”

उन्होंने अपने निलंबन पर कहा- मुझे कुछ भी चौंकाता नहीं है। मैं कौन सी पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल हूं? कम से कम कांग्रेस को इस बाबत एक बार मुझसे बात को करनी चाहिए थी? बकौल झा, “यह चीज बेहद असहिष्णु संस्कृति का परिचय देती है।”

झा ने पार्टी द्वारा लिए गए ऐक्शन के कुछ ही मिनटों बाद माइक्रो ब्लॉगिंग साइट टि्वटर पर अपना बायो चेंज कर लिया। लिखा, “डीएनए से कांग्रेसी हूं। पर ‘इंडिया नीड्स ए रीअवेंकेंड एंड रीवाइटलाइज्ड कांग्रेस, रेडी टू विन द सेकेंड फ्रीडम स्ट्रगल’ लिखने को लेकर कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता पद से हटा दिया गया जा चुका है।”

बता दें कि पिछले महीने उन्हें कांग्रेस चीफ सोनिया गांधी ने इस आर्टिकल को लेकर पार्टी प्रवक्ता पद से हटा दिया था। लेख में झा ने कांग्रेस की आलोचना की थी। यह रहा संजय झा के सस्पेंशन पर MPCC द्वारा जारी किया गया प्रेस नोटः

Sanjay Jha, Congress, Sachin Pilot

वैसे, कांग्रेस ने झा के खिलाफ यह ऐक्शन ऐसे वक्त पर लिया जब झा ने 14 जुलाई की सुबह साढ़े 10 बजे ट्वीट कर कहा था- राजस्थान के सियासी संकट का सरल हल यही है कि सचिन पायलट को मुख्यमंत्री बना दिया जाए। अशोक गहलोत (पहले ही तीन बार सीएम रह चुके हैं) को वरिष्ठ संगठनात्मक भूमिका दी जानी चाहिए, जिसमें वह कमजोर राज्यों की समीक्षा करें। एक नया नेता भी RPCC चीफ के तौर पर चुना जाए। जहां चाह है, वहीं राह है।

पायलट को कांग्रेस ने डिप्टी सीएम के साथ राजस्थान पीसीसी चीफ पद से हटाने से जुड़ा ऐलान दोपहर को किया। इस पर झा ने ट्वीट कर कहा था- पांच साल तक सचिन पायलट ने 2013-18 के बीच अपना खून, आंसू, पसीना और परिश्रम कांग्रेस पार्टी के लिए खर्च किया है। कांग्रेस 21 सीट से 100 सीटों तक आई। हमने उन्हें सिर्फ परफॉर्मेंस का बोनस दिया। हम बहुत मेरिटोक्रेटिक हैं। हम बहुत पारदर्शी हैं।

बता दें कि कांग्रेस ने अशोक गहलोत सरकार के खिलाफ बगावत करने वाले पायलट व उनके साथ गए दो मंत्रियों को उनके पद से हटा दिया। पायलट को प्रदेशाध्यक्ष पद से भी हटा दिया गया।

कांग्रेस ने इस बाबत कहा कि सचिन पायलट दिग्भ्रमित होकर भाजपा के जाल में उलझ गए और कांग्रेस की सरकार गिराने की साजिश में शामिल हो गए। इसके साथ ही पार्टी ने अपने विधायकों को स्पष्ट तौर पर कहा है कि सरकार व्यक्तियों पर नहीं बल्कि नीतियों व सिद्धांतों पर टिकी है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 COVID-19 टेस्टिंग में नीचे से दूसरे नंबर पर है UP? दावा कर बोले पूर्व IAS अफसर- योगी आदित्यनाथ की ‘नो टेस्ट, नो कोरोना’ पॉलिसी की कीमत पूरा सूबा चुकाएगा
2 ‘जब गधा चौकीदारी करेगा, तब घोड़े तो अस्तबल छोड़ेंगे’, पायलट की छुट्टी पर शो में बोले BJP नेता, देखें कांग्रेसी नेता ने क्या दिया जवाब
3 भारत में COVID-19 के 86% केस 10 सूबों में, 50 प्रतिशत मामले सिर्फ महाराष्ट्र और तमिलनाडु से- स्वास्थ्य मंत्रालय
ये पढ़ा क्या?
X