ताज़ा खबर
 

दो साल पहले जिस शख्‍स ने पीएम नरेंद्र मोदी को दी थी भगवतगीता, अब उसने की है एक शिकायत

संदीप को आशा है कि पीएम उनके पत्र पर संज्ञान लेते हुए उनकी समस्याओं का निवारण करेंगे। संदीप ने अपनी शिकायत में कहा है कि जबसे जीएसटी लॉन्च हुई है तबसे छोटे उद्योगपतिों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

Author नई दिल्ली | March 11, 2018 1:35 PM
संदीप सोनी ने दो साल पहले लकड़ी से बनी भगवत गीता पीएम मोदी को तोहफे में दी थी जिसे पाकर पीएम को बहुत खुशी हुई थी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भगवत गीता तोहफे में देने वाले संदीप सोनी ने पीएम को पत्र लिखकर शिकायत की है कि वे अपना काम नहीं कर पा रहे हैं क्योंकि बैंक द्वारा उन्हें बहुत प्रताड़ित किया जा रहा है। संदीप सोनी ने दो साल पहले लकड़ी से बनी भगवत गीता पीएम मोदी को तोहफे में दी थी जिसे पाकर पीएम को बहुत खुशी हुई थी। नोटबंदी और जीएसटी के बाद से छोटे उद्योगपतियों को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। देश के छोटे और बड़े उद्योगपति काफी समय से बैंकों द्वारा प्रताड़ित किए जाने का आरोप लगा रहे हैं लेकिन उनकी समस्याएं सुलाझाई नहीं जा रही हैं।

अपनी इन्हीं परेशानी को लेकर कानपुर के रहने वाले संदीप सोनी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर शिकायत की है। संदीप सोनी ने एएनआई से बातचीत करते हुए कहा “बैंक कर्मचारी मुझे कई तरीकों से प्रताड़ित कर रहे हैं। मैं लागातार समस्याओं से जूझ रहा था। यह स्थिति इतनी भयानक हो गई कि मैं अपना बिजनेस नहीं कर पा रहा।” यह सारी बातें संदीप ने पीएम को भेजे पत्र में लिखी हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, संदीप को आशा है कि पीएम उनके पत्र पर संज्ञान लेते हुए उनकी समस्याओं का निवारण करेंगे। संदीप ने अपनी शिकायत में कहा है कि जबसे जीएसटी लॉन्च हुई है तबसे छोटे उद्योगपतिों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

शिकायत में कहा गया है कि इतने सारे नियमों के कारण हम लुट गए हैं। इसी बीच बैंक वालों ने भी ऋण बकाएदारों से बचने के लिए नियम और विनियमों को कड़ा कर दिया है। छोटे उद्योगपतियों को लोन लेने में भी काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। कई बार छोटे और मध्य उद्योगपतियों ने अपनी शिकायतें दर्ज कराई हैं लेकिन उनपर किसी भी प्रकार की कोई कार्रवाई नहीं की गई। आपको बता दें कि पीएम को भगवत गीता उपहार में देने के बाद संदीप सोनी उनके बहुत करीब हो गए हैं लेकिन पीएम उनकी शिकायत पर कोई कार्रवाई करते हैं या नहीं यह देखना होगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App