ताज़ा खबर
 

संबित पात्रा ने राहुल के आलू-सोना वाले बयान का उड़ाया मजाक, गौरव वल्लभ बोले- मेरे पास आपकी तरह कॉमेडी स्किल नहीं, मैं नौटंकी नहीं कर सकता

BJP प्रवक्ता ने एक टीवी डिबेट के दौरान कहा- राहुल गांधी अभी रिसर्च कर रहे हैं कि कितना आलू डालने से सोनभद्र जितना सोना निकलता है।

Edited By कीर्तिवर्धन मिश्र नई दिल्ली | Updated: March 10, 2020 10:04 PM
भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा (बाएं) और कांग्रेस के गौरव वल्लभ।

भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा और कांग्रेस प्रवक्ता गौरव वल्लभ के बीच होली के मौके पर मजाक के अंदाज में शुरू हुई बहस तीखी हो गई। दोनों के बीच बहस का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इसमें दोनों को डिग्री और राहुल के आलू डालो, सोना निकालों वाले बयान पर बहस करते देखा जा सकता है।

न्यूज 18 की ओर से शेयर किए गए वीडियो में संबित पात्रा कहते हैं- “मैं चाहता हूं कि गौरव वल्लभ एक बार राहुल गांधी का जीके टेस्ट लें। अभी होली का माहौल चल रहा है। वे पूछें कि आखिर राहुल ने कितना आलू गाड़ा था सोनभद्र में, जो इतना सोना निकला है। अगर 3500 टन सोना निकला है, तो कितने आलू से उतना सोना निकलता है।” क्लिप में संबित इशारे करते हुए कहते हैं- “याद है पीछे से आलू डालो, आगे से सोना निकालो वाला बयान। वो राहुल गांधी काफी परेशान हैं। वो विदेश में रिसर्च कर रहे हैं कि कितना आलू गड़ा था कि इतना सोना निकला है।”

गौरव वल्लभ ने पात्रा के इस बयान पर तीखी प्रतिक्रिया देते हुए कहा- “मैं कभी किसी का टेस्ट नहीं करता। आप लोग कहते हैं कि सीएए में यह कर दिया, एनआरसी में यह बोल दिया। तो मैंने एक बात पूछी कि सीएए में पेंच कितने हैं। मैं इनका जीके टेस्ट नहीं ले रहा। मुझे दुनिया के 90 फीसदी जवाब नहीं आते, लेकिन मैं तब गलत जवाब नहीं दूंगा। मैं कहूंगा कि मुझे नहीं आता, मैं घर जाकर पढूंगा। लेकिन मेरे पास कॉमेडी वाली स्किल नहीं है। मुझे तो आपकी हर बात का सीधा जवाब देना पड़ेगा। मुझे तो हर व्यक्ति की आंखों में आंखें डालकर सीधा जवाब देना पड़ेगा। मेरे पास नौटंकी की स्किल नहीं है। न सीख सकता हूं।”

कांग्रेस प्रवक्ता आगे कहते हैं- “मुझे इन्हीं बातों से संशय होता है। एक पढ़ा-लिखा आदमी ऐसी बातें कैसे कर सकता है। यही मेरे को संशय में लाता है कि इनकी डिग्री सही नहीं होगी, लेकिन मैं अपने आप को मनाता हूं कि नहीं इस आदमी की डिग्री सही है। हालांकि, अगर यह युवा जो यहां बैठा है, उनकी आंखों के सामने सोना, सोना की जगह रोजगार-रोजगार बोला होता, तो इनको अच्छा लगता।” गौरतलब है कि एक दिन पहले ही दोनों के बीच डिबेट में डिग्री को लेकर कड़ी बहस हुई थी। तब पात्रा ने कहा था कि मुझे डिग्री आपकी सरकार में मिली थी। मेरी यूपीएससी में 19वीं रैंक थी। इसलिए मैं डिग्री का सर्टिफिकेट राहुल जी से नहीं लूंगा।

Next Stories
1 पीएम मोदी की चमक फीकी पड़ रही है? विदेशी निवेशकों ने भारत से निकाले 3300 करोड़ रुपये
2 Coronavirus: भारत में एक दिन में 12 लोग संक्रमित पाए गए, कुल 59 मामलों की पुष्टि; इटली में 24 घंटे में 97 की मौत हुई
3 केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने लगाए गो कोरोना… गो कोरोना के नारे, चीनी राजनयिक भी थे साथ, वीडियो हो रहा वायरल
ये पढ़ा क्या?
X