सोशल मीडिया पर ट्रोल हो रही हैं सपा नेत्री, कहा- मैंने नहीं लगवाई भाजपा की वैक्सीन, कोरोना कोई बीमारी ही नहीं; एंकर ने कहा- आई रेस्ट माय केस

शो के दौरान सपा नेत्री के ‘कोरोना है ही नहीं ‘ वाले बयान को लेकर सोशल मीडिया पर यूजर्स उन्हें जमकर ट्रोल करने लगे।

Corona Partha Paul Indian Express
तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक प्रस्तुतीकरण के लिए किया गया है। Express Photo By Partha Paul

कई तरह की वैक्सीन आ जाने के बाद भी कोरोना वायरस भारत समेत दुनिया के तमाम देशों से खत्म नहीं हुआ है। इस साल भारत में कोरोना की दूसरी लहर ने सबसे ज्यादा तबाही मचाई और बड़ी संख्या में लोगों की जानें गई। वहीं, कुछ राजनीतिक दलों के नेता अभी भी कोरोना को सिरे से खारिज कर रहे हैं। एक न्यूज पोर्टल के शो में समाजवादी पार्टी की युवा नेत्री ने कुछ ऐसा ही बयान दे दिया जिसको लेकर वे सोशल मीडिया पर ट्रोल होने लगीं। इस शो के दौरान सपा नेत्री ने कहा कि वे कोरोना को नहीं मानती हैं और उन्होंने भाजपा की वैक्सीन नहीं ली है। ये वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। 

समाचार पोर्टल दी लल्लन टॉप के ट्विटर हैंडल पर 18 नवंबर को इस शो का एक वीडियो शेयर किया गया, जिसमें न्यूज एंकर तमाम राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ विभिन्न मुद्दों पर चर्चा कर रहे हैं। इसी चर्चा के दौरान समाजवादी पार्टी की नेत्री नेहा ने वैक्सीन लेने के सवाल पर अपना तर्क देते हुए कहा, ”मैंने भाजपा की वैक्सीन नहीं लगवाई है। मैं वैक्सीन की विरोधी तो छोड़ो, कोरोना की ही विरोधी हूं और मैं कोरोना को नहीं मानती। मुझे तो लगता है ये इन लोगों (भाजपा) का लाया हुआ डर है, इन लोगों (भाजपा) की लाई हुई एक बीमारी है।”

सपा नेत्री के इस तर्क पर एंकर ने पूछा कि क्या उनको वाकई लगता है कि कोरोना कोई बीमारी नहीं है? इस पर सपा नेत्री ने कहा, ”मैं तो कह रही हूं, मुझे तो नहीं लगता है कि कोरोना कोई बीमारी है। भारत में तो भाजपा का कोविड है औऱ कोई कोविड नहीं है।” सपा नेत्री के इस बयान को हालांकि, मंच पर मौजूद पर समाजवादी पार्टी के सहयोगी दल आरएलडी के प्रतिनिधि ने खारिज कर दिया।

इसके बाद आगे की चर्चा के दौरान सपा नेत्री ने सफाई देने के लहजे में कहा कि उन्होंने कोविड में काम बहुत किया है। इस पर एंकर ने पूछा कि जब उनके मुताबिक, कोविड था ही नहीं तो काम क्यों किया? सपा नेत्री ने फिर तर्क दिया, ‘जैसे लोगों को ऑक्सीजन की समस्या थी, खाना नहीं था।” एंकर ने पूछा कि ये समस्या किस वजह से सामने आ रही थी, तो सपा की युवा नेत्री ने दिमाग में डर का हवाला दिया, जिस पर एंकर को कहना पड़ा- ‘आई रेस्ट माय केस।’

वहीं, शो के दौरान सपा नेत्री के ‘कोरोना है ही नहीं ‘ वाले बयान को लेकर सोशल मीडिया पर यूजर्स उन्हें जमकर ट्रोल करने लगे। एक यूजर ने इस वीडियो को शेयर करते हुए लिखा, ‘ये समाजवादी पार्टी की युवा नेत्री हैं।’ इसी तरह एक यूजर ने वीडियो पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, ‘अद्भुत ज्ञान का प्रदर्शन करते हुए।’

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
और तल्ख हो सकते हैं केंद्र व सपा सरकार के रिश्ते