ताज़ा खबर
 

नफरत के सौदागार मुल्क की तबाही का कर रहे इंतजार’, आजम खान ने रामपुर वालों को लिखी चिट्ठी

Azam Khan: बकरीद के मौके पर अपने संसदीय क्षेत्र रामपुर में आजम खान की पहुंचने की उम्मीद कम है। ऐसे में उन्होंने रामपुर वासियों को लेकर एक भावुक करने वाला पत्र लिखा है।

Azam Khan, Samajwadi Party, MP, Shock, Court, 3.27 Crores, Land Case, Rampur, UP, State News, Hindi News, Jansatta News, India News, आजम खान, समाजवादी पार्टी, सपा, रामपुर, जमीन, भूमाफिया, जमीन, लोक निर्माण विभाग, मौलाना मोहम्मद जौहर अली विश्वविद्यालय, यूपी समाचार, हिंदी समाचारसपा सांसद आजम खान। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटोः ओइनम आनंद)

Azam Khan: समाजवादी पार्टी के नेता व रामपुर से सांसद आजम खान की मुश्किलें खत्म होती नजर नहीं आ रही है। प्रशासन उन्हें भूमाफिया घोषित कर चुका है। उनके खिलाफ चल रहे मामलों के चलते वह कई दिनों से अपने संसदीय क्षेत्र रामपुर से दूरी बनाए हुए हैं। बकरीद के मौके पर अपने संसदीय क्षेत्र रामपुर में आजम खान की पहुंचने की उम्मीद कम है। ऐसे में उन्होंने रामपुर वासियों को लेकर एक भावुक करने वाला पत्र लिखा है। इस खत में उन्होंने शासन प्रशासन पर भी निशाना साधा है और समर्थकों के प्रति आभार जताया है।

उन्होंने लिखा, ‘तुम सब पर और हालात पर मेरी नजर है। मजहब, धर्म और जात इस इदारे (यूनिवर्सिटी) की पहचान नहीं है, इसका मकसद सबको प्यार और सबसे प्यार करना है। इस गांठ को मजबूती से गिरह बंद कर लेना, जिंदगी के बाकी सफर में भी यह काम आएगी। नफरतों के सौदागर इसी के रास्ते मुल्क की तबाही का इंतजाम कर रहे हैं, सबको इससे होशियार रहना होगा।’

आजम खान ने खत में आगे लिखा है, ‘मेरी बात सुनो, अजीजों आपके दिलो दिमाग में बहुत सारे सवालात होंगे लेकिन मेरा जवाब बस इतना है कि जो लोग समझते हैं सब कुछ मिट जाएगा, वो सही हो सकते हैं लेकिन एक इतिहास लिख गया, एक तारीख कायम हो गई है कि हड्डी-गोश्त से बना हुआ एक इंसान, गली का बाशिंदा हुकूमतों की मुखालफतों के बावजूद एक अजीम उल शान इदारा यूनिवर्सिटी और नौनिहालों के लिए अच्छे हाई क्लासेज स्कूल्स कायम करने में कामयाब हो सका।’ उन्होंने लिखा कि हम जल्द सब एक साथ वहोंगे, जब तक जिएंगे जिंदगी की चुनौतियों से जूझते रहेंगे मगर हार नहीं मानेंगे, क्योंकि अपनी मंजिल के बारे में हमें मालूम है और उसे हासिल करना है।

“फिर सुबह होगी, तूफान गुजर चुका होगा, लहरें दम तोड़ चुकी होंगी और जहाज सूरज की किरणों के साथ अपनी मंजिल की तरफ गामजन हो जाएगा। जरा अपनी नजरों से देखो तो मैंने जब इस यूनिवर्सिटी का संग ए बुनियाद रखवाया था तो तुम्हे क्या संदेश दिया था, आसमान छूती हुई मजबूत शमां तुम्हारे इरादों की हमेशा नुमाइंदगी करती रहेगी जाओ वहां जा कर उसे सैल्यूट करो। इसके अलावा भी आजम खां ने अपने संदेश में बहुत सी बातें लिखी हैं।

प्रशासन द्वारा भूमाफिया घोषित किए जाने के बाद आजम खान की मुश्किल और बढ़ सकती है। अब उन्हें हिस्ट्रीशीटर घोषित किए जाने पर विचार किया जा रहा है। बता दें कि आजम खान के खिलाफ इस साल अप्रैल से अब तक 72 मामले दर्ज किए जा चुके हैं। रामपुर के जिलाधिकारी आंजनेय कुमार सिंह  का कहना है कि आजम खान के खिलाफ जो भी मामले दर्ज हैं उनमें से ज्यादातर मामले आपराधिक हैं। इनमें जबरन जमीन कब्जाने और चोरी के मामले भी शामिल हैं। ऐसे में उनकी हिस्ट्रीशीट खोलने का फैसला किया है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Delhi Police के जवान ने कार रोकी तो बदमाशों ने मारी टक्कर, फिर घसीटकर ले गए, पिस्तौल छीनकर तोड़ दिया हाथ
ये पढ़ा क्या?
X