ताज़ा खबर
 

लाइव डिबेट के दौरान बोले SP MLA- कंगना के पीछे पड़ना होगा, बता दिया ‘आदतन अपराधी’

समाजवादी पार्टी के एक नेता ने कंगान को 'हैबिचुअल ऑफेंडर' कह कर बुलाया। इसके अलावा बहस के दौरान उन्होने कहा कि कंगना के पीछे पड़ना होगा। जिसके बाद भाजपा और शिवसेना के प्रवक्ता आपस में भीड़ गए और जमकर बहस की।

Author Edited By सिद्धार्थ राय नई दिल्ली | Updated: September 12, 2020 4:03 PM
kangana, Maharashtra governmentसमाजवादी पार्टी के विधायक रईश शेख ने कंगान को ‘हैबिचुअल ऑफेंडर’ कह कर बुलाया।

महाराष्ट्र सरकार और बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत के बीच शुरू हुआ विवाद लगातार गहराता जा रहा है। इस मुद्दे पर कई न्यूज़ चैनल प्राइम टाइम डिबेट भी कर रहे हैं। ऐसी ही एक डिबेट ‘न्यूज़ 18 इंडिया’ चैनल पर चल रही थी। इस दौरान समाजवादी पार्टी के एक नेता ने कंगान को ‘हैबिचुअल ऑफेंडर’ कह कर बुलाया। इसके अलावा बहस के दौरान उन्होने कहा कि कंगना के पीछे पड़ना होगा। जिसके बाद भाजपा और शिवसेना के प्रवक्ता आपस में भीड़ गए और जमकर बहस की।

बीएमसी ने बुधवार को कंगना का ऑफिस तोड़ दिया था। इसे लेकर न्यूज़ 18 इंडिया’ पर बहस हो रही थी। तभी एंकर अमिश देवगन ने कहा कि आप कंगना के पीछे क्यों पड़े हैं। इसपर भिवंडी से समाजवादी पार्टी के विधायक रईश शेख ने कहा कि कंगना के पीछे तो पड़ना पड़ेगा। यह सुनते ही भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के प्रवक्ता संबित पत्र नाराज़ हो गए और कहने लगे कि एक चुना हुआ विधायक जो एक कोंस्टीटूशनल पोसिशन पर रहते हुए कहते हैं कि हमें कंगना के पीछे पड़ना होगा। ये नेशनल टीवी में एक खुली धमकी है।

पात्रा ने आगे कहा “ये धमकियां नहीं चलेंगी रईश साहब, आप हो सकते हैं दाउद के सपोटर मगर ये न्यूज़ इंडिया है।” पात्रा ने आगे कहा कि बताए दाउद की प्रॉपर्टी गिरनी चाहिए या नहीं? बता दें मुंबई पुलिस की एंटी नारकोटिक्स सेल ने कंगना रनोट के खिलाफ ड्रग्स मामले की जांच शुरू कर दी है। उनसे पूछताछ के लिए सोमवार तक समन भेजा जा सकता है। महाराष्ट्र के गृह मंत्रालय ने शुक्रवार को कंगना के खिलाफ जांच के आदेश दिए थे। एक्ट्रेस के पूर्व बॉयफ्रेंड अध्ययन सुमन ने उन पर ड्रग्स लेने के आरोप लगाए थे।

वहीं कंगना ने शनिवार को एक बार फिर महाराष्ट्र सरकार पर ट्वीट कर निशाना साधा है। एक्ट्रेस ने ट्विटर पर सोमनाथ मंदिर की फोटो शेयर कर लिखा, “सोमनाथ को कितने दरिंदों ने कितनी बार बेरहमी से उजाड़ा, मगर इतिहास गवाह है- क्रूरता और अन्याय कितने भी शक्तिशाली क्यूं न हों, आखिर में जीत भक्ति की ही होती है, हर हर महादेव।”

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 शो के पैनल पर शिवसेना नेता ने उठाए सवाल, एंकर का जवाब- आपकी पार्टी भी आपको यहां बैठाने लायक नहीं मानती, बैठाना बंद कर दूं?
2 रक्षा मामलों की संसदीय समिति में राहुल गांधी का CDS से हुआ सामना, सैनिकों के खाने, कपड़ों को लेकर दागे सीधे सवाल
3 IRCTC Indian Railways: आज से चलने जा रही हैं 80 स्पेशल ट्रेनें, यहां देखें गाड़ियों की पूरी लिस्ट
ये पढ़ा क्या?
X