ताज़ा खबर
 

सपा सांसद आजम खान ने पत्नी, बेटे समेत कोर्ट में किया सरेंडर, जेल भेजे गए

रामपुर के एडीजी 6 कोर्ट ने यह आदेश जारी किया है। तीनों फर्जी जन्म प्रमाणपत्र बनाने के मामले में गैर जमानती वारंट जारी होने के बाद कोर्ट पहुंचे थे।

आजम खान पर अनियमितता का यह कोई नया मामला नहीं है। गौहर विश्वविद्यालय के लिए गैरकानूनी रूप से जमीन हथियाने से लेकर अन्य कई अनियमितताओं से संबंधित मामले उन पर दर्ज हैं। वे लंबे समय से सियासत में हैं और समाजवादी पार्टी के शीर्ष और निर्णायक भूमिका वाले नेताओं में गिने जाते हैं। आरोप है कि जब उनकी पार्टी उत्तर प्रदेश में सत्ता में थी, तब उन्होंने उसका खूब बेजा फायदा उठाया।

समाजवादी पार्टी (सपा) के सांसद आजम खान ने बुधवार को पत्नी डॉक्टर तजीन फात्मा और बेटे अब्दुल्ला आजम समेत कोर्ट में सरेंडर कर दिया। तीनों को न्यायिक हिरासत में भेजा गया है। कोर्ट ने तीनों को 2 मार्च तक न्यायिक हिरासत में जेल भेजने का आदेश जारी किया है। रामपुर के एडीजी 6 कोर्ट ने यह आदेश जारी किया है। तीनों फर्जी जन्म प्रमाणपत्र बनाने के मामले में गैर जमानती वारंट जारी होने के बाद कोर्ट पहुंचे थे।

बता दें कि पिछले काफी समय से कोर्ट के बुलाने के बावजूद आजम खान कोर्ट में हाजिरी नहीं दे रहे थे इस वजह से उनके खिलाफ जमानती और गैर जमानती वारंट जारी किए जा चुके थे। फर्जी जन्म प्रमाण पत्र बनवाने से संबंधित मुकदमे में जारी किए गए थे।

उन पर आरोप है कि पिछले विधानसभा चुनाव में अब्दुल्ला ने गलत जन्मतिथि प्रमाणपत्र बनवाकर नामांकन पत्र में लगाया था। बीजेपी नेता आकाश सक्सेना ने जनवरी 2019 में अब्दुल्ला पर धोखाधड़ी से दो-दो जन्म प्रमाण पत्र बनवाने और इसके लिए आजम खान और उनकी पत्नी ने शपथपत्र देकर गलत जानकारी देने का आरोप लगाते हुए एफआईआर लिखाई थी।

उन्होंने कहा था कि एक जन्म प्रमाण पत्र रामपुर से तो दूसरा लखनऊ से जारी किया गया। इसके खिलाफ उन पर जांच चल रही है। इसी मामले में तीनों के खिलाफ कुर्की जब्ती का वारंट जारी किया गया था। कोर्ट ने पेश न होने पर संपत्ति कुर्क करने के आदेश दिए थे। तीनों को जमानत याचिका खारिज होने के बाद जेल भेजा गया है। वहीं रामपुर के एसपी ने कानून व्यवस्था बिगड़ने की आशंका जताई है। आजम परिवार  के खिलाफ रामपुर में कई मामले चल रहे हैं।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 दिल्ली हिंसा: बीमारी के बावजूद सामने आईं सोनिया गांधी, पूछा- तीन दिन से कहां थे अमित शाह?
2 Delhi Voilence: कोर्टरूम में चलाई गई कपिल मिश्रा की वीडियो क्लिपिंग, दिल्ली पुलिस बोली- हमने देखा नहीं था तो भड़क गए जज
3 Delhi Violence: एक द‍िन में 12 साल का लड़का समेत 21 लोग गोली से घायल, 19 वर्षीय नौजवान के स‍िर में घुसेड़ी ड्र‍िल
ये पढ़ा क्या?
X