ताज़ा खबर
 

सैफ अली खान के पिता ने भी किया था काले हिरण का शिकार, बेटी की राइफल से ली थी जानवरों की जान

Salman Khan Jail, Blackbuck Poaching Case Verdict: सैफ अली खान के पिता मंसूर अली खान पटौदी भी काले हिरण के शिकार के आरोपी रहे हैं। यह घटना 2005 की है। जब मंसूर अली खान पटौदी हरियाणा के झज्जर जिले में शिकार पर गये थे। खास बात यह है कि विश्व पर्यावरण दिवस यानी कि 5 जून को काले हिरण मारे गये थे।

salman khan, salman khan jail, salman khan saja, salman khan verdict, salman khan case verdict, blackbuck poaching, blackbuck poaching case, blackbuck poaching case verdict, salman khan case, सलमान खान, काला हिरण अवैध शिकार मामले, काला हिरण मामले, salman kahn blackbuck poaching case, salman khan blackbuck poaching case verdict, salman khan case news, salman khan latest news, blackbuck poaching case 1998, blackbuck poaching case 1998 jodhpur, Saif Ali Khan, Mansur Ali Khan Pataudi, Hindi news, News in Hindi, jansattaअभिनेता सैफ अली खान और उनके पिता मंसूर अली खान पटौदी।

जोधपुर की एक अदालत ने गुरुवार को अभिनेता सलमान खान को वर्ष 1998 के काला हिरण शिकार मामले में दोषी करार दिया है और उन्हें पांच साल की जेल की सजा सुनाई, जबकि इस मामले के अन्य चार आरोपी बॉलीवुड सितारों सैफ अली खान, तब्बू, सोनाली बेंद्रे और नीलम को बरी कर दिया गया है। बता दें कि सैफ अली खान के पिता मंसूर अली खान पटौदी भी काले हिरण के शिकार के आरोपी रहे हैं। यह घटना 2005 की है। जब मंसूर अली खान पटौदी हरियाणा के झज्जर जिले में शिकार पर गये थे। खास बात यह है कि विश्व पर्यावरण दिवस यानी कि 5 जून को काले हिरण मारे गये थे। इस मामले का खुलासा तब हुआ था जब झज्जर के एसएचओ ने पूर्व क्रिकेटर मंसूर अली खान और उनके शिकार टीम में शामिल रहे 6 लोगों को पकड़ा था। पुलिस ने इनकी गाड़ियों से एक मादा काला हिरण और खरगोश के शव बरामद किये थे।

पुलिस ने इस दौरान .22 बोर की राइफल भी बरामद की थी। यह लाइसेंसी राइफल मंसूर अली खान की बेटी और अभिनेत्री सोहा अली खान के नाम से रजिस्टर्ड थी। बाद में साल 2009 में गुड़गांव डीएम ने सोहा के राइफल के लाइंसेस को रद्द कर दिया था। तब प्रशासन द्वारा तर्क दिया गया था कि सोहा ने नियमों का उल्लंघन किया है। इस मामले में फरीदाबाद में एक विशेष पर्यावरण अदालत ने 9 साल बाद जनवरी 2015 में सजा सुनाई थी। अदालत ने शिकार टीम में शामिल सभी 6 लोगों को 3 साल की कैद की सजा सुनाई थी। हालांकि इस केस की सुनवाई के दौरान ही 2011 में मंसूर अली खान की मौत हो गई थी। इसके बाद आरोपियों की सूची से उनका नाम हटा दिया गया था। तब जिन लोगों को सजा सुनाई गई थी उनके नाम थे शशि सिंह ठाकुर, सैयद अहमद, गयासुद्दीन, दयाल सिंह और बलवान सिंह थे।

सैफ अली खान  गुरुवार को जिस मामले में बरी हुए हैं इसमें अभी तक उनकी मुश्किलें कम नहीं हुई है। जीव रक्षा बिशनोई सभा ने इस केस के अन्य आरोपियों को बरी करने के फैसले का विरोध किया है। संगठन के राज्य अध्यक्ष शिवराज बिशनोई ने कहा कि इन्हें बरी करने के फैसले को उच्च न्यायालय में चुनौती दी जाएगी।

Next Stories
1 जेल में दबंग बन कर बैठे दिखे सलमान खान, तस्‍वीरों से उठे सरकारी दावे पर सवाल
2 वीडियोः जब काले हिरण का शिकार करने के बाद अफसरों के सामने अकड़ के बैठे थे सलमान खान
3 शिकार के इन नियमों का पालन नहीं किया तो सलमान खान की तरह आप भी जा सकते हैं जेल
ये पढ़ा क्या?
X