मारा गया पुलवामा हमले का मास्टर माइंड सैफुल्ला, देता था आतंकियों को ट्रेनिंग

मुठभेड़ पर चिनार कोर कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल डीपी पांडे ने कहा, ‘सैफुल्ला उर्फ लम्बू को मारने का दोगुना महत्व है। यह फरवरी 2019 पुलवामा हमले का क्लोजर है।’

jammu kashmir, pulwama
तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है।( एक्सप्रेस फोटो)।

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में शनिवार को सुरक्षाबलों ने एक मुठभेड़ में एक शीर्ष पाकिस्तानी आतंकी सहित जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकवादियों को ढेर कर दिया। पुलिस ने बताया कि मारे गए पाकिस्तानी आतंकवादी का संबंध जैश सरगना मसूद अजहर के परिवार से है और वह वर्ष 2019 के पुलवामा हमले की साजिश रचने में शामिल था।

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि सुरक्षाबलों ने आतंकवादियों की मौजूदगी की जानकारी मिलने पर आज सुबह नामिबियान तथा मारसार वनक्षेत्र और दाचीगाम के इलाके में घेराबंदी कर तलाश अभियान शुरू किया। उन्होंने बताया कि तलाश कर रहे दल पर आतंकवादियों ने गोलियां चलाईं जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई। सुरक्षाबलों ने जवाबी कार्रवाई की जिसमें दो आतंकवादी मारे गए।

मुठभेड़ पर चिनार कोर कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल डीपी पांडे ने कहा, ‘सैफुल्ला उर्फ लम्बू को मारने का दोगुना महत्व है।यह फरवरी 2019 पुलवामा हमले का क्लोजर है। मारा गया आतंकी पुलवामा हमले के मास्टरमाइंड में से एक था। जिसने एक स्थानीय आदिल नाम के शख्स को ट्रेनिंग दी थी। आदिल ने खुद को आईईडी हमले में उड़ा लिया था।’

डीपी पांडे ने बताया, ‘मारा गया आतंकी लोगों को आईईडी बनाने और सुरक्षा बलों के खिलाफ आईईडी लगाने के लिए ट्रेनिंग देता था। वह स्थानीय युवाओं का ब्रेनवॉश कर उन्हें कट्टरपंथी बनाता था और हथियार देकर भर्ती करने का काम भी करता था।’

कश्मीर के पुलिस महानिरीक्षक विजय कुमार ने कहा, ‘‘प्रतिबंधित आतंकवादी संगठन जैश ए मोहम्मद के सरगना महसूद अजहर के परिवार से संबद्ध शीर्ष पाकिस्तानी आतंकवादी इस्माइल अल्वी उर्फ लंबू उर्फ अदनान को आज मुठभेड़ में मार गिराया गया।’’

उन्होंने कहा, ‘‘वह पुलवामा के लेथपुरा हमले की साजिश में शामिल था और मामले की जांच कर रहे राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (एनआईए) द्वारा दाखिल आरोपपत्र में भी उसका नाम शामिल है।

गौरतलब है कि 14 फरवरी 2019 को जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के काफिले पर आत्मघाती हमलावर आदिल डार ने हमला किया था जिसमें 40 जवान शहीद हो गए थे और कई अन्य घायल हो गए थे।

उन्होंने कहा, ‘‘दूसरे आतंकवादी की पहचान की जा रही है।’’ कुमार ने सेना और पुलिस को इस सफलता पर बधाई भी दी।

अपडेट