ताज़ा खबर
 

सदगुरु जग्गी वासुदेव बोले- धरती पर जन्मा हर शख्स हिंदू है, यह कोई धर्म नहीं

जग्गी के मुताबिक, यह एक भौगोलिक पहचान है और इस धरती पर पैदा हुए किसी भी शख्स को हिंदू कहा जा सकता है। उन्हें धार्मिक मान्यताओं के आधार पर चुना जाना गलत है।

jansatta editorial page, chaupal, Sadhguru Jaggi Vasudev, Hinduism, Isha Foundationजग्गी वासुदेव सदगुरु ईशा फाउंडेशन नाम की संस्था चलाते हैं। इसमें योग के कई कार्यक्रम करवाए जाते हैं। (फोटो-फेसबुक)

आध्यात्मिक गुरु सदगुरु जग्गी वासुदेव ने हिंदू धर्म को लेकर अपने विचार साझा किए हैं। NDTV 24/7 चैनल को दिए इंटरव्यू में जग्गी वासुदेव ने कहा कि हिंदू कोई धर्म नहीं है क्योंकि इससे जुड़ी कोई किताब या फिर धर्मगुरु मौजूद नहीं है। जग्गी के मुताबिक, यह एक भौगोलिक पहचान है और इस धरती पर पैदा हुए किसी भी शख्स को हिंदू कहा जा सकता है। उन्हें धार्मिक मान्यताओं के आधार पर चुना जाना गलत है।

इसके साथ ही उन्होंने अकबर रोड का नाम बदलकर महाराणा प्रताप के नाम पर कर देने वाली बात पर भी सवाल खड़े किए। जग्गी ने कहा कि अकबर ने विकास में योगदान देने वाले कई काम किए हैं जिसकी वजह से उनका नाम नहीं हटाया जाना चाहिए। वहीं, औरंगजेब रोड का नाम बदलकर एपीजे अब्दुल कलाम के नाम पर रखने के फैसले को उन्होंने सही बताया। जग्गी का मानना है कि औरंगजेब भारत के लिए ठीक वैसा था जैसा कि इजरायल के लिए हिटलर।

हाल में बजरंग दल की ट्रेनिंग के एक वीडियो पर उन्होंने कहा कि हर देश में कुछ ऐसे लोग होते हैं जिन्हें नजरअंदाज किया जाना चाहिए। इस वीडियो में बजरंग दल अपने संगठन के लोगों को ट्रेनिंग देने के लिए ‘दुश्मनों’ को मुसलमान जैसी टोपी पहनाए दिखा रहा था।

जग्गी वासुदेव सदगुरु ईशा फाउंडेशन नाम की संस्था चलाते हैं। इसमें योग के कई कार्यक्रम करवाए जाते हैं। योग सिखाने के उनके ये कार्यक्रम भारत के साथ-साथ यूएस, ब्रिटेन, लेबनान, सिंगापुर,कनाडा,मलेशिया,चीन, नेपाल और ऑस्ट्रेलिया जैसे देशों में भी चलते हैं।

Next Stories
1 Rafale deal: फ्रांस के नए ऑफर के बाद मुश्किल हुई सौदे की राह, भारत के जवाब का है इंतजार
2 मोदी सरकार ने दो साल में बनवाए 13 लाख शौचालय, विदेशी मुद्रा भंडार रिकॉर्ड स्‍तर पर
3 आप और भाजपा के खिलाफ राहुल गांधी की रैली 28 को
ये पढ़ा क्या?
X