ताज़ा खबर
 

भारत-अमेरिका रिश्ते को मजबूत करने पर दोनों विदेश मंत्रियों का जोर- आतंकवाद, H1B वीजा पर रणनीतिक चर्चा

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने मोदी और पोम्पिओ के बीच बैठक की तस्वीरें साझा करते हुए ट्वीट किया,‘‘हम अपनी रणनीतिक साझेदारी को और प्रगाढ़ करने के लिए मिलकर काम कर रहे हैं। मंत्री पोम्पिओ ने भारत-अमेरिका संबंधों के विभिन्न पहलुओं पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से चर्चा के लिए उनसे मुलाकात की।

Author नई दिल्ली | Updated: June 26, 2019 3:09 PM
विदेश मंत्री एस जयशंकर ने अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ से की मुलाकात

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ से बुधवार को मुलाकात की और भारत-अमेरिका रणनीतिक साझेदारी को मजबूत करने के तौर-तरीकों पर चर्चा की। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने दोनों नेताओं की मुलाकात की तस्वीर साझा करते हुए ट्वीट किया,‘‘करीबी मित्र का स्वागत करते हुए। भारत-अमेरिका के बीच उच्च स्तर के आदान -प्रदान पर जोर देते हुए, विदेश मंत्री डॉ एस जयशंकर ने चुनाव के बाद भारत आई पहली अमेरिकी हस्ती पोम्पिओ का गर्मजोशी से स्वागत किया।’’ पोम्पिओ मंगलवार को यहां पहुंचे थे। उन्होंने सुबह के समय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की और द्विपक्षीय संबंधों के विभिन्न पहलुओं पर चर्चा की।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने मोदी और पोम्पिओ के बीच बैठक की तस्वीरें साझा करते हुए ट्वीट किया,‘‘हम अपनी रणनीतिक साझेदारी को और प्रगाढ़ करने के लिए मिलकर काम कर रहे हैं। मंत्री पोम्पिओ ने भारत-अमेरिका संबंधों के विभिन्न पहलुओं पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से चर्चा के लिए उनसे मुलाकात की। प्रधानमंत्री ओसाका में होने जा रहे जी-20 शिखर सम्मेलन से इतर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मुलाकात करेंगे।’’ पोम्पिओ की यह यात्रा अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच जी..20 शिखर सम्मेलन के इतर होने वाली बैठक से पहले हुई है।

रणनीतिक रूप से अहम भारत-अमेरिका वार्ता से पहले मंगलवार को राजनयिक सूत्रों ने कहा था कि भारत रूस से एस- 400 मिसाइल रक्षा प्रणाली खरीदने के लिए अमेरिकी प्रतिबंध से छूट की शर्तों को पूरा करता है। उन्होंने जोर देकर कहा था कि भारत रूस के साथ अपने पुराने रक्षा संबंधों को ‘‘खत्म’’ नहीं कर सकता है। विदेश मंत्री एस जयशंकर और पोम्पिओ के बीच बैठक का ब्योरा फिलहाल नहीं मिल पाया है, लेकिन रूस से मिसाइल रक्षा प्रणाली खरीद ,आतंकवाद, एच1बी वीजा, व्यापार और ईरान से तेल खरीद पर अमेरिकी प्रतिबंधों से उत्पन्न होने वाली स्थिति सहित विभिन्न मुद्दों पर बातचीत हो सकती है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 खुफिया विभागों के नए प्रमुखों की नियुक्ति, अरविंद कुमार आईबी तो बालाकोट एयरस्ट्राइक की प्लानिंग करने वाले सामंत गोयल बने रॉ चीफ
2 कांग्रेस हार गई तो देश हार गया क्या?’ राज्यसभा में पीएम मोदी ने चुनाव बाद कांग्रेस के बयानों पर बोला हमला
3 Kerala Lottery Akshaya AK 401 Results: यहां देखें आज के विजेताओं की पूरी लिस्ट, मिला 60 लाख रुपए तक का इनाम
ये पढ़ा क्या?
X