ताज़ा खबर
 

RTI से खुलासा- BookMyShow ग्राहकों से कर रहा नाजायज वसूली, ऑनलाइन टिकट पर एक्स्ट्रा पैसे लेना कानूनन गलत, आप ले सकते हैं ये एक्शन

BookMyShow मूवी टिकट पर अतिरिक्त पैसे चार्ज करता है। आरटीआई से खुलासा हुआ है कि यह बिल्कुल गैर-कानूनी तरीका है। BookMyShow या कोई दूसरा प्लेटफॉर्म अतिरिक्त पैसे नहीं ले सकता है।

BookMyShow अपने ग्राहकों से मूवी टिकट के दाम से ज्यादा पैसे लेता है। मामले में दाखिल आरटीआई के मुताबिक यह गलत है। (फाइल फोटो)

अक्सर फिल्म की टिकट ऑनलाइन बुक कराने के लिए आप ‘BookMyShow’ का सहारा लेते हैं। लेकिन इस दौरान आपसे टिकट के दाम के अलावा अतिरिक्त पैसे भी चार्ज किए जाते हैं। शायद आपको यह जानकारी नहीं कि टिकट के ऊपर अतिरिक्त पैसे लेना नाजायज है। एक आरटीआई के खुलासे से पता चला है कि BookMyShow अपने ग्राहकों से गलत ढंग से पैसे की उगाही करता है। एक आरटीआई के जवाब में रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) ने स्पष्ट किया है कि इंटरनेट से मूवी टिकट ऑनलाइन खरीदने पर आपको अतिरिक्त पैसे नहीं देने होते हैं।

द लॉजिकल इंडियन की रिपोर्ट के मुताबिक आरटीआई के बिनाह पर विजय गोपाल नाम के एक शख्स BookMyShow, PVR और आईटी डिपार्टमेंट के खिलाफ हैदराबाद स्थित कंजूमर कोर्ट का रुख किया है। इस मामले में 23 मार्च को सुनवाई होने वाली है। ऐसा नहीं है कि यह किस्सा सिर्फ BookMyShow के साथ है। इसके अलावा दूसरी सुविधाएं मुहैया कराने वाले ऐप भी अतिरिक्त पैसा लेते हैं। लेकिन, आपको जानना चाहिए कि इंटरनेट हैंडिलिंग फीस के लिए पहले से ही निर्धारित कानून बने हुए हैं। आरबीआई ने आरटीआई के जवाब में कहा है कि ऑनलाइन मूवी टिकट मुहैया कराने वाले सभी प्लेटफॉर्म असल पैसे के अलावा इंटरनेट हैंडलिंग फीस के नाम पर अतिरिक्त पैसा नहीं ले सकते हैं। यह पूरी तरह से आरबीआई के मर्चेंट डिस्काउंट रेट (एमडीआर) रेगुलेशन के खिलाफ है।

BookMyShow के अलावा ऑनलाइन सुविधा देने वाली दूसरे फर्म भी सेवा के बदले अतिरिक्त पैसे चार्ज करते हैं। Swiggy समेत कई ऐसे प्लेटफॉर्म हैं, जो सुविधा के बदले इंटरनेट हैंडलिंग चार्ज के तौर पर पैसे ले लेते हैं। हालांकि, कुछ नियम और शर्ते हैं जिनके बिनाह पर आप इनके खिलाफ शिकायत दर्ज करा सकते हैं। आरटीआई के ही जवाब में आरबीआई ने कहा कि यदि कोई ग्राहक ऑनलाइन सेवा मुहैया कराने वाले फर्म के खिलाफ शिकायत दर्ज कराना चाहता है तो वह https://rbi.org.in/script/complaints.aspx पर विजिट करके शिकायत दर्ज करा सकता है। अगर कोई मर्चेंट नियमों की अनदेखी करता है तो उसेक खिलाफ संबंधित बैंक में जाकर भी शिकायत कर सकता है। यदि बैंक भी 30 दिनों के भीतर कार्रवाई अमल में नहीं लाता है तो ग्राहक ‘Banking Ombudsman’ (कंपनी विशेष के खिलाफ जांच करने वाला अधिकारी) का रुख कर सकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App