ताज़ा खबर
 

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कहा- टुकड़े-टुकड़े गैंग को लेकर कोई जानकारी नहीं है, RTI के जरिये मांगी गई थी सूचना

दरअसल पीएम मोदी और अमित शाह कई बार अपने भाषणों में टुकड़े-टुकड़े गैंग का जिक्र कर चुके हैं। इस पर एक्टिविस्ट साकेत गोखले ने बीती 26 दिसंबर को एक आरटीआई दाखिल की थी।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, फोटो सोर्स – इंडियन एक्सप्रेस

केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने आरटीआई के जवाब में कहा है कि उनके पास ‘टुकड़े-टुकड़े गैंग’ से संबंधित कोई जानकारी नहीं है। दरअसल पीएम मोदी और अमित शाह कई बार अपने भाषणों में टुकड़े-टुकड़े गैंग का जिक्र कर चुके हैं। इस पर एक्टिविस्ट साकेत गोखले ने बीती 26 दिसंबर को एक आरटीआई दाखिल की थी।

आरटीआई के तहत साकेत गोखले ने पूछा था कि गृह मंत्री अमित शाह ने नई दिल्ली में एक कार्यक्रम के दौरान कहा था कि टुकड़े-टुकड़े गैंग को सबक सिखाने की जरूरत है। आरटीआई में गोखले ने इसी टुकड़े-टुकड़े गैंग के बारे में जानकारी मांगी थी।

इस आरटीआई के जवाब में केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने कहा है कि उनके पास टुकड़े-टुकड़े गैंग के बारे में कोई जानकारी नहीं है। इंडिया टुडे की रिपोर्ट के अनुसार गृह मंत्रालय ने कहा कि टुकड़े-टुकड़े गैंग को खूफिया एजेंसियों या कानूनी प्रवर्तन एजेंसियों ने कोई जिक्र नहीं किया है।

बता दें कि टुकड़े-टुकड़े गैंग की चर्चा पहली बार फरवरी 2016 में दिल्ली की जेएनयू यूनिवर्सिटी में लगे ‘देश विरोधी नारों’ के बाद हुई थी। इसके बाद से कई लोगों द्वारा टुकड़े-टुकड़े गैंग का इस्तेमाल किया गया है।

आरटीआई दाखिल करने वाले साकेत गोखले ने ट्वीट कर बताया कि ‘वो अब चुनाव आयोग से गृह मंत्री अमित शाह की शिकायत करेंगे। गोखले ने बताया कि अमित शाह बताएं कि उन्होंने रैली में इस शब्द का इस्तेमाल क्यों किया और वो जनता से झूठ बोलने और उन्हें गुमराह करने के लिए सार्वजनिक तौर पर माफी मांगे।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 एनडीए के एक और सहयोगी के साथ बढ़े भाजपा के मतभेद! CAA के विरोध में दिल्ली चुनाव में नहीं उतरेगा अकाली दल
2 CAA: जामिया पहुंचे दिल्ली के पूर्व एलजी नजीब जंग, बोले- मुस्लिमों को भी शामिल करो, या औरों को हटाओ
3 CAA में मुस्लिमों को भी शामिल करें या दूसरे धर्मों के नाम हटाएं, Delhi के पूर्व राज्यपाल बोले बिगड़ रहें देश के हालात
ये पढ़ा क्या?
X