ताज़ा खबर
 

लेक्‍चर सीरीज: ममता बनर्जी से लेकर शरद पवार तक को आमंत्रित करेगा RSS, लिस्‍ट में राहुल गांधी का नाम नहीं?

संघ दिल्ली में तीन दिवसीय लेक्चर सीरीज का आयोजन करने जा रहा है। इसमें शामिल होने के लिए देश की राष्ट्रीय व क्षेत्रीय पार्टियों के नेताओं को आमंत्रण भेजा जा रहा है। कांग्रेस नेताओं के नाम भी आमंत्रण सूची में शामिल है। लेकिन कांग्रेस प्रमुख राहुल गांधी को आमंत्रित किया जाएगा या नहीं, इस पर अभी संशय बना हुआ है।

संघ के एक कार्यक्रम की तस्वीर (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ राजधानी दिल्ली में 17 सितंबर से तीन दिवसीय लेक्चर सीरीज का आयोजन करने जा रहा है। इस सीरीज के लिए पाकिस्तान को छोड़ करीब 60 देशों के दूतावासों को निमंत्रण भेजा जा रहा है। वहीं, देश की राष्ट्रीय और क्षेत्रीय पार्टियों के नेताओं को निमंत्रण भेजा जा रहा है। उन तमाम दलों के नेताओं को आमंत्रित किया जा रहा है, जो अक्सर संघ पर प्रहार करते रहते हैं। इनमें टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी से लेकर त्रिपुरा के मुख्यमंत्री मानिक सरकार तक शामिल हैं। लेकिन कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को कार्यक्रम में आमंत्रित किया जाएगा या नहीं, इस पर अभी संशय बना हुआ है। हालांकि, अन्य कांग्रेस नेताओं को आमंत्रण भेजा जा रहा है।

टाईम्स नाऊ के अनुसार, संघ के तीन दिवसीय लेक्चर कार्यक्रम में शामिल होने के लिए पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी, जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, कांग्रेस नेता जयराम रमेश, शशि थरूर, त्रिपुरा के पूर्व मुख्यमंत्री और लेफ्ट पार्टी के वरिष्ठ नेता मानिक सरकार, राकंपा प्रमुख शरद पवार, उद्धव ठाकरे, ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक, अमर सिंह, अखिलेश यादव के अलावा डीएमके और एआईडीएमके के कई नेताओं के नाम आमंत्रित किए जाने वाले लिस्ट में शाामिल हैं। वहीं, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को आमंत्रित किया जाएगा या नहीं, इसका फैसला अगले 24 घंटे के अंदर किया जा सकता है। लेकिन इसके साथ ही मामला काफी दिलचस्प हो गया है कि संघ एक ओर जयराम रमेश और शशि थरूर जैसे कांग्रेस नेताओं को आमंत्रित कर रहा है, लेकिन पार्टी प्रमुख पर अभी संशय बना हुआ है। इसके साथ ही मुस्लिम समुदाय के लोगों को भी इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया जा रहा है। राष्ट्रीय मुस्लिम मंच, जिसे संघ के मुस्लिम विंग के रूप में जाना जाता है, कुछ धार्मिक नेताओं को आमंत्रित करने की योजना बना रहा है। इसके अलावा उद्योग, मीडिया व अन्य क्षेत्र के लोगों को भी आमंत्रित किया जाएगा।

तीन दिवसीय इस कार्यक्रम के पहले दिन संघ प्रमुख मोहन भागवत भागवत आरएसएस संगठन, इसकी विचारधारा, विजन व कार्यक्रम के बारे में बताएंगे। अगले दिन वे राष्ट्रीय महत्व के विभिन्न समकालीन मुद्दों जैसे आरक्षण, हिंदुत्व और सांप्रदायिकता पर विचार रखेंगे। यह संघ का पहला ऐसा कार्यक्रम होगा, जिसमें विभिन्न मुद्दों पर सीधा संवाद होगा। पहले दो दिन ऑडीअन्स के लिखित सवाल लिए जाएंगे। इसके बाद इन्हें शार्टलिस्टेड किया जाएगा और अंतिम दिन सभी सवालों के जवाब दिए जाएंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App