ताज़ा खबर
 

अब RSS के मंच पर होंगे नोबेल पुरस्‍कार विजेता कैलाश सत्‍यार्थी, विजयादशमी के कार्यक्रम में होंगे शरीक

नोबेल शांति पुरस्‍कार विजेता कैलाश सत्‍यार्थी विजयादशमी पर आयोजित होने वाले RSS के कार्यक्रम में शरीक होंगे। संघ ने इसके लिए उन्‍हें आमंत्रित किया था, जिसे सत्‍यार्थी ने स्‍वीकार कर लिया है।

नोबेल पुरस्‍कार विजेता कैलाश सत्‍यार्थी। (फाइल फोटो)

पूर्व राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी को नागपुर स्थित मुख्‍यालय में आमंत्रित करने के बाद राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ (RSS) अब विजयादशमी के सालाना कार्यक्रम में नोबेल पुरस्‍कार विजेता कैलाश सत्‍यार्थी को चीफ गेस्‍ट बनाने जा रहा है। न्‍यूज एजेंसी पीटीआई के अनुसार, RSS ने सत्‍यार्थी को इसके लिए निमंत्रित किया था, जिसे नोबोल पुरस्‍कार विजेता ने स्‍वीकार कर लिया है। RSS के वरिष्‍ठ नेता मनमोहन वैद्य ने इसकी पुष्टि की है। इस बार संघ का विजयादशमी कार्यक्रम 18 अक्‍टूबर को आयोजित किया जाएगा। RSS के लिए विजयादशमी का कार्यक्रम बेहद महत्‍वपूर्ण होता है, क्‍योंकि इस दिन संघ प्रमुख राष्‍ट्रीय महत्‍व से जुड़े मसलों पर संगठन की राय रखते हैं।

बता दें कि कैलाश सत्यार्थी को साल 2014 में शांति का नोबेल पुरस्कार मिला था। उन्‍हें बच्चों को बाल श्रम से मुक्ति दिलाने के लिए जाना जाता है। सत्‍यार्थी ने अपने जीवन में हजारों बच्चों को बाल श्रम से मुक्त कराया है। इसलिए आरएसएस ने इस बार अपने विजयादशमी के कार्यक्रम में मुख्‍य अतिथि के रूप में उन्‍हें आमंत्रित किया है। बता दें कि आरएसएस प्रत्येक वर्ष विजयादशमी को अपने स्थापना दिवस के रूप में मनाता है। साल 1925 में विजयादशमी के ही दिन आरएसएस की स्थापना हुई।

गौरतलब है कि विजयादशमी के अवसर पर आरएसएस की तरफ से आयोजित होने वाले कार्यक्रम इससे पहले भी देश की कई जानी-मानी हस्तियां शामिल हो चुकी हैं। इस साल जून में ही भारत के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के तृतीय वर्ष शिक्षा वर्ग के समापन समारोह में मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल हुए थे, जिसे लेकर काफी चर्चा हुई थी। कांग्रेस पार्टी के कुछ नेताओं ने प्रणब मुखर्जी को इस कार्यक्रम में शामिल न होने की भी सलाह दी थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App