ताज़ा खबर
 

बिहार चुनावों में भाजपा की हार पर संघ की बैठक

दिल्ली और बिहार विधानसभा चुनावों में भाजपा की पराजय और कुछ ही समय बाद समाप्त होने जा रहे भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के कार्यकाल की पृष्ठभूमि में जलगांव में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय समन्वय बैठक शुरू हुई।

Author जलगांव | January 7, 2016 10:00 PM
आरएसएस के सर संघचालक मोहन भागवत। (फाइल फोटो)

पिछले साल दिल्ली और बिहार विधानसभा चुनावों में भाजपा की पराजय और कुछ ही समय बाद समाप्त होने जा रहे भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के कार्यकाल की पृष्ठभूमि में जलगांव में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय समन्वय बैठक शुरू हुई। संघ पदाधिकारियों ने हालांकि इस बैठक का संबंध अमित शाह या पार्टी के मामलों से होने से इनकार किया है। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख मनमोहन वैद्य ने कहा कि बुधवार को शुरू हुई यह दो दिवसीय बैठक ‘कोई निर्णय लेने वाली या नीति निर्धारण करने वाली बैठक नहीं है बल्कि केवल संघ प्रचारकों के बीच अनुभव साझा करने और निरीक्षण से जुड़ी बैठक है।’ उन्होंने कहा, ‘संघ के ये कार्यकर्ता एवं प्रचारक अपने संगठन के कार्य के वास्ते देश भर में सतत प्रवास करते हैं, समाज के विभिन्न वर्गों के लोगों से मिलते हैं और उसके आधार पर परिस्थिति का आकलन करने, जानकारी साझा करने और अनुभवों का आदान प्रदान करते हैं।’

केंद्र की सत्ता में आने के बाद भाजपा ने महाराष्ट्र, हरियाणा, झारखंड में सरकार बनाईऔर जम्मू कश्मीर में पीडीपी के साथ गठबंधन सरकार बनी लेकिन पिछले साल दिल्ली और बिहार में उसे करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा था। आने वाले समय में पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, असम, केरल और साल 2017 में उत्तर प्रदेश, पंजाब जैसे राज्यों में चुनाव होने हैं। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह का कार्यकाल कुछ समय में समाप्त होने वाला है। बिहार चुनाव में पार्टी की हार के बाद कई नेता इस विषय पर पार्टी अध्यक्ष समेत अन्य की जवाबदेही तय करने की मांग कर चुके हैं।

संघ के एक पदाधिकारी ने बताया कि साल में संघ की तीन प्रमुख अखिल भारतीय बैठकें होती हैं। अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा की बैठक हर साल मार्च में होती है, अखिल भारतीय कार्यकारी मंडल की बैठक दीवाली से पहले और प्रांत प्रचारक बैठ क ग्रीष्मकालीन प्रशिक्षण वर्ग के बाद होती है। इसके अलावा सितंबर और जनवरी माह में समन्वय बैठक होती है। अभी जलगांव में समन्वय बैठक हो रही है। संघ के पदाधिकारी ने कहा कि समन्वय बैठक में संघ के प्रमुख अखिल भारतीय पदाधिकारी और विविध क्षेत्रों के प्र्रमुख कार्यकर्ता भाग ले रहे हैं।

इस बैठक से पहले संघ के प्रमुख पदाधिकारियों ने पुणे में तीन जनवरी को संपन्न शिवशक्ति संगम की उपलब्धियों पर चर्चा की और समन्वय बैठक की रूपरेखा तय की। वैद्य ने बताया कि 11, 12 और 13 मार्च को नागौर (राजस्थान) में होने वाली अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा की बैठक की रूपरेखा भी इसी बैठक में तय होगी। संघ के विस्तार का जिक्र करते हुए एक पदाधिकारी ने बताया कि संघ ने अपने कार्य विस्तार के लिए 10-12 गांव के समूह मंडल बनाए हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 अपशब्द कहने के मामले में रेमो को जमानत मिली
2 दबाव में काम करने के बजाय पद छोड़ें नीतीश : मांझी
3 शिक्षकों को चुनावी कार्य से हटाने पर विचार कर रहा है केंद्र : कठेरिया
ये पढ़ा क्या?
X