ताज़ा खबर
 

शस्त्र पूजा पर मोहन भागवत का चीन पर निशाना, कहा- ताकत दिखा भारत को झुका सके, यह हो नहीं सकता

भागवत ने कहा कि सरकार, सेना एवं देश की जनता ने अपने स्वाभिमान, दृढ़निश्चय एवं वीरता का जो परिचय दिया है, उससे चीन बौखला गया है।

संघ प्रमुख मोहन भागवत।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने रविवार को विजयादशमी के मौके पर शस्त्र पूजन कार्यक्रम में हिस्सा लिया। यहां उन्होंने पिछले एक साल की बड़ी घटनाओं के बारे में संक्षेप में बात की। भागवत ने एलएसी पर चीनी आक्रामकता पर निशाना साधते हुए कहा कि पूरी दुनिया देख रही है कि चीन कैसे भारत के क्षेत्र में अतिक्रमण कर रहा है। चीन के इस विस्तारवादी रवैये को हर कोई पहचानता है। भागवत ने कहा कि चीन अब तक वियतनाम, ताईवान, अमेरिका और जापान समेत कई देशों से लड़ रहा है, पर भारत की प्रतिक्रिया ने उसे परेशान कर दिया है।

भागवत यहीं नहीं रुके। उन्होंने कहा कि हम सभी देशों से मित्रता चाहते हैं। यह हमारा स्वभाव है, परंतु हमारी सद्भावना को दुर्बलता मानने की हिम्मत न की जाए। अपने शक्ति प्रदर्शन से भारत को कोई देश न तो नचा सकता है और न ही झुका सकता है। भागवत ने कहा कि सरकार, सेना एवं देश की जनता ने अपने स्वाभिमान, दृढ़निश्चय एवं वीरता का जो परिचय दिया है, उससे चीन बौखला गया है। इस परिस्थिति में हमें सजग रहना होगा। हमें अपनी सीमा सुरक्षा व्यवस्थाओं को मजबूत करने के साथ-साथ आर्थिक एवं सामरिक क्षेत्र में भी ताकत बढ़ानी होगी।

‘अब पहले वाला भारत नहीं रहा, हमारी दृढंता अब कम नहीं पड़ेगी’: भागवत ने आगे कहा, “हमारी सेना की अटूट देशभक्ति व अद्भुत वीरता, हमारी सरकार की स्वाभिमानी रवैया तथा देश के लोगों का धैर्य चीन को पहली बार मिला, उससे उसके ध्यान में यह बात आ जाना चाहिए कि भारत पहले वाला नहीं है। उसके रवैये में भी सुधार हो जाना चाहिए। नहीं हुआ तो जो परिस्थिति आएगी, उसमें हम सभी लोगों की सजगता, तैयारी व दृढ़ता कम नहीं पड़ेगी।”

‘सीएए विरोधी प्रदर्शन भड़काने की कोशिशें जारी’: संघ प्रमुख ने सीएए के विरोध में प्रदर्शन करने वालों को भी आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा, “हमने सीएए विरोधी प्रदर्शन देखे, जिन्होंने देश में तनाव पैदा किया। इससे पहले कि इन पर चर्चा हो पाती, सभी का ध्यान कोरोना पर केंद्रित हो गया।” उन्होंने कहा कि कुछ मौकापरस्तों ने सीएए का इस्तेमाल प्रदर्शन के नाम पर हिंसा भड़काने के लिए किया। भागवत ने आरोप लगाया कि अब भी दंगाइयों की ओर से टकराव बढ़ाने की कोशिशें जारी हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 संविधान से धोखाधड़ी है कोलेजियम सिस्टम…क्लब और गुट की तरह चलता है, बोले दिल्ली हाईकोर्ट के पूर्व चीफ जस्टिस
2 कोरोना वैक्सीन के लिए मोबाइल पर आएगा SMS, स्कूलों में लगेंगे टीके; जानें सरकार के ब्लूप्रिंट में क्या-क्या है शामिल
3 पत्नी की जिद पर कम काम कर रहे अमित शाह, अपने नाइयों को कोरोना होने के बाद दाढ़ी भी बढ़ानी पड़ी
यह पढ़ा क्या?
X