ताज़ा खबर
 

RSS के संगठन ने दी कांग्रेस को चुनौती- अभिजीत बनर्जी पर दिखाएं भरोसे, अपने राज्यों में लागू करें ‘न्याय’

कानिटकर ने कांग्रेस को घेरते हुए कहा कि कांग्रेस अभिजीत बनजी पर भरोसा दिखाये और 'न्यूनतम आय योजना' (न्याय) योजना को अपने राज्यों में लागू करे। अभिजीत बनर्जी ने कांग्रेस को लोकसभा चुनाव के दौरान न्याय बनाने में मदद की थी।

Author नई दिल्ली | Updated: October 23, 2019 12:35 PM
नोबल पुरस्कार विजेता अभिजीत बनर्जी। (pc- ANI)

Abhijit Banerjee, RSS, NYAY: राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की इकाई भारतीय शिक्षण मंडल (बीएसएम) ने कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए कहा है कि अगर उन्हें नोबल पुरस्कार विजेता अभिजीत बनर्जी की न्याय योजना पर इतना भरोसा है तो अपने राज्यों में इसे लागू करें। बीएसएम ने अभिजीत को सम्मानित करने के तरीके की भी आलोचना की है। भारतीय शिक्षण मंडल के राष्ट्रीय आयोजन सचिव मुकुल कानिटकर ने कहा कि उन्हें नोबल पुरस्कार जिस सिद्धांत के आधार पर दिया गया है वह समय-समय पर विफल रहा है।

कानिटकर ने कांग्रेस को घेरते हुए कहा कि कांग्रेस अभिजीत बनजी पर भरोसा दिखाये और ‘न्यूनतम आय योजना’ (न्याय) योजना को अपने राज्यों में लागू करे। अभिजीत बनर्जी ने कांग्रेस को लोकसभा चुनाव के दौरान न्याय बनाने में मदद की थी। इस योजना के तहत 20 फीसदी गरीब परिवारों को साल में 72 हजार रुपये की सहायता देने का वादा किया गया था। इस साल हुए लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के घोषणापत्र में न्याय योजना को प्रमुखता दी गई थी।

कानितकर ने समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए कहा कि बनर्जी जिस नीति की वकालत कर रहे थे, वह पहले ही विफल हो चुकी है। फिर भी उन्हें नोबेल पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया। यह ज्यादा खतरनाक है। यही वजह है कि अमेरिका में ओबामाकेयर योजना नहीं चली क्योंकि वह अर्थव्यवस्था में दवाब बना रही थी।

कानितकर ने कहा कि ग्रीस भी इसीलिए बर्बाद हो गया क्योंकि उसने लोगों को काम करने के लिए प्रोत्साहित करने के बजाय, उन्हें योजना के तहत पैसे देने के बारे में सोचा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को अगर बनर्जी की योजना पर इतना भरोसा था तो इस योजना को राजस्थान, मध्य प्रदेश और पंजाब में लागू करे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Haryana, Maharashtra Election Results 2019 Date, Time: हरियाणा, महाराष्ट्र का कौन बनेगा किंग? 24 को काउंटिंग, जानें हर डिटेल
2 चिदंबरम को बेल देते हुए सुप्रीम कोर्ट ने उड़ाई CBI की धज्जियां, जज ने ऐसे काटी दलीलें
3 Jamia Millia Islamia में बवाल! छात्रों का ‘भाड़े के गुंडों’ से हमले का आरोप, ‘इजरायली कनेक्शन’ पर हो रहे प्रदर्शन
जस्‍ट नाउ
X