ताज़ा खबर
 

आरएसएस की सलाह पर दलित या आदिवासी को राष्ट्रपति बना सकती है बीजेपी, झारखंड की गवर्नर द्रौपदी मुर्मू हो सकती हैं उम्मीदवार

ओडिशा की रहने वाले द्रौपदी मुर्मू भाजपा और बीजू जनता दल (बीजद) की गठबंधन सरकार में मंत्री रह चुकी हैं।

झारखंड की राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू एनडीए के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार की दौड़ में बताई जा रही हैं। (पीटीआई फाइल फोटो)

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का कार्यकाल 25 जुलाई को खत्म हो रहा है। जहां विपक्षी दल राष्ट्रपति पद के लिए साझा उम्मीदवार उतारने के लिए लामबंद हो रहे हैं वहीं सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) गठबंधन ने अभी तक अपने पत्ते नहीं खोले हैं। माना जा रहा है कि भाजपा देश के राजनीतिक समीकरण को ध्यान में रखते हुए राष्ट्रपति उम्मीदवार चुनेगी। एशियन एज की रिपोर्ट के अनुसार भाजपा किसी दलित या आदिवासी को देश के सर्वोच्च पद पर आसीन होने के लिए उम्मीदवार बना सकती है।

एशियन एज की रिपोर्ट के अनुसार भाजपा, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और उससे जुड़े अन्य संगठनों के नेताओं ने हाल ही में इस बारे में एक बैठक की है। रिपोर्ट के अनुसार इस बैठक में आरएसएस ने भाजपा से दलित या आदिवासी को राष्ट्रपति उम्मीदवार बनाने के लिए कहा है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार झारखंड की मौजूदा राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू भाजपा नीत गठबंधन एनडीए के राष्ट्रपति उम्मीदवारों की दौड़ में सबसे आगे हैं।

HOT DEALS
  • Honor 7X 64GB Blue
    ₹ 15445 MRP ₹ 16999 -9%
    ₹0 Cashback
  • Sony Xperia L2 32 GB (Gold)
    ₹ 14850 MRP ₹ 20990 -29%
    ₹0 Cashback

रिपोर्ट के अनुसार महिला और दलित नेता द्रौपदी मुर्मू का विरोध करना विपक्षी दलों के लिए आसान नहीं होगा।  ओडिशा की रहने वाले द्रौपदी मुर्मू राज्य की भाजपा और बीजू जनता दल (बीजद) की गठबंधन सरकार में मंत्री रह चुकी हैं। रिपोर्ट के अनुसार मुर्मू को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाए जाने पर बीजद के भाजपा के विपक्षी खेमे के उम्मीदवार को समर्थन देने की संभावना काफी कम हो जाएगी।

मीडिया रिपोर्ट में केंद्रीय मंत्री और दलित नेता थावर चंद गहलोत का नाम भी एनडीए के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार की दौड़ में बताया जा रहा है। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष रविवार (28 मई) को नागपुर में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत और आरएसएस के वरिष्ठ नेता भैयाजी जोशी से मिले थे। माना जा रहा है कि शाह ने इस बैठक में संघ के नेताओं से राष्ट्रपति चुनाव पर चर्चा की।

रिपोर्ट के अनुसार भाजपा राष्ट्रपति उम्मीदवार के मुद्दे पर विपक्ष से कोई समझौता न करने के मूड में है। भाजपा को पूरा भरोसा है कि कांग्रेस के नेतृत्व वाले यूपीए के उम्मीदवार को हराना उसके लिए मुश्किल नहीं होगा। दलित और आदिवासी नेताओं के अलावा लोक सभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन और केंद्रीय मंत्रियों सुषमा स्वराज और वेंकैया नायडू के नाम भी संभावित उम्मीदवारों के रूप में गिनाए जा रहे हैं।

वीडियो- लालकृष्ण आडवाणी हो सकते हैं देश के अगले राष्ट्रपति; पीएम मोदी ने सुझाया नाम

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App