ताज़ा खबर
 

गुजरात: मोरारी बापू ने गुलाम अली को दिया हनुमंत अवॉर्ड, हिरासत में लिए गए विरोध करने वाले शिवसैनिक

कथावाचक मोरारी बापू की संस्‍था द्वारा दिया जाने वाला हनुमंत अवॉर्ड लेने के लिए महुआ आए हुए हैं गुलाम अली

Author भावनगर (गुजरात) | April 22, 2016 4:56 PM
महुआ में मोरारी बापू की संस्‍था की ओर से आयोजित किया गया था अस्मिता पर्व। कार्यक्रमों के आयोजन के बाद होना था पुरस्कार वितरण।

गुजरात के भावनगर में शुक्रवार को कुछ शिवसैनिकों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। वे पाकिस्‍तानी गजल गायक गुलाम अली के खिलाफ प्रदर्शन करने जा रहे थे। घटना महुआ की है। गुलाम अली कथावाचक मोरारी बापू की संस्‍था द्वारा दिया जाने वाला हनुमंत अवॉर्ड लेने के लिए महुआ आए हुए हैं। महुआ पुलिस ने बताया कि तलगरजर्दा गांव से 10 शिवसैनिकों को हिरासत में लिया गया है। महुआ में मोरारी बापू की संस्‍था की ओर से अस्मिता पर्व आयोजित किया गया था। इसमें विभिन्‍न कार्यक्रम आयोजित किए गए। अंत में पुरस्‍कार वितरण समारोह होना था। इसमें विभिन्‍न हस्तियों के साथ गुलाम अली को भी मोरारी बापू के हाथों पुरस्‍कार दिया जाना था। इसका विरोध करने के लिए शिवसैनिक आयोजनस्‍थल की ओर जा रहे थे। तभी पुलिस ने उन्‍हें हिरासत में ले लिया। कार्यक्रम खत्‍म होने के बाद शिवसैनिकों को रिहा कर दिया गया।

अस्मिता पर्व में गुलाम अली के गाने का भी कार्यक्रम था। पर वह उस दिन नहीं पहुंच सके। वह सम्‍मान लेने के लिए गुरुवार रात महुआ पहुंचे थे। शुक्रवार को हनुमान जयंती के दिन अस्मिता पर्व का समापन था। इसमें सम्मान लेने के बाद गुलाम अली भावनगर से विदा हो गए।

गुलाम अली अस्मिता पर्व में पहले भी गा चुके हैं, लेकिन तब उनका विरोध नहीं हुआ था। लेकिन पिछले साल से शिवसेना लगातार उनका विरोध कर रही है। इस वजह से मुंबई और कुछ दूसरे शहरों में उनका कार्यक्रम रद्द भी किया गया है।

गुलाम अली से संबन्धित अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App