ताज़ा खबर
 

अरुण जेटली के बेटे रोहन जेटली बने DDCA चीफ, जय शाह के साथ फोटो शेयर कर पूछने लगे लोग- BJP में नहीं है ‘नेपोटिज्म’?

लोगों ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय शाह के साथ जेटली के बेटे के तस्वीर शेयर कर तंज कसा है कि बीजेपी में 'भाई-भतीजावाद' नहीं है।

Rohan Jaitley DDCA son of arun jaitley DDCAअरुण जेटली के बेटे रोहन जेटली और अमित शाह के पुत्र जय शाह। (twitter/indian_armada)

पूर्व वित्त मंत्री दिवंगत अरुण जेटली के बेटे रोहन जेटली को निर्विरोध रूप से दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) का अध्यक्ष चुना गया है। रोहन जेटली इस पद के लिए एकमात्र उम्मीदवार थे। अन्य उम्मीदवार सुनील कुमार गोयल ने अपना नामांकन दाखिल करने के बाद वापस ले लिया था। रोहन के डीडीसीए चीफ बनने की आधिकारिक घोषणा नौ नवंबर को की जाएगी। इससे पहले अरुण जेटली इस पद पर 14 सालों तक रहे थे।

रोहन जेटली को डीडीसीए का अध्यक्ष बनाए जाने पर सोशल मीडिया यूजर्स जमकर प्रतिक्रिया दे रहे हैं। लोगों ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय शाह के साथ जेटली के बेटे के तस्वीर शेयर कर तंज कसा है कि बीजेपी में ‘भाई-भतीजावाद’ नहीं है। जय शाह बीसीसीआई के सचिव हैं। ट्विटर यूजर बाबा जेसीबी @indian_armada दोनों की तस्वीर शेयर कर लिखते हैं, ‘भाजपा में नेपोटिज्म नहीं है।’

इसके जवाब में एक यूजर लिखते हैं कि दोनों ने ड्रीम 11 में शतक जमाए हैं। निर्मला ताई @CrypticMiind नाम से एक यूजर लिखती हैं, ‘अरुण जेटली के बेटे रोहन जेटली को दिल्ली क्रिकेट एसोसिएशन का अध्यक्ष चुना गया है। बस ऐसे ही बताया है। आइए अब बॉलीवुड में भाई-भतीजावाद से लड़ते हैं।’

सपा प्रवक्ता अनिल यादव @anil100y लिखते हैं, ‘स्व० जेटली जी के पुत्र को DDCA का निर्विरोध अध्यक्ष चुना गया। जय शाह के बाद ये भाजपा की परिवारवाद पर दूसरी मजबूत चोट है। बजाओ ताली।’ मुकेश मित्तल @hallagullaboy लिखते हैं, ‘रोहन जेटली DDCA के अध्यक्ष। जय शाह BCCI के सेक्रेटरी। मोदी जी से ज़्यादा कौन बेवकूफ़ बना सकता है देश को?’

समीर मिश्रा @samir_kmishra एक कमेंट के जवाब में लिखते हैं, ‘फिर से निर्वाचित और चयनित के बीच अंतर जानने की जरूरत है।’ एक यूजर @GujjuMafia लिखते हैं, ‘जेटली के पुत्र और जय शाह भारतीय क्रिकेट टीम के लिए ओपनिंग करते थे। दोनों ने महान पार्टरशिप की थी।’ अक्षय @akshaypatrikar लिखते हैं, ‘अब लोग कहेंगे कि कांग्रेस के जमाने में भी तो ऐसा होता था।’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ‘अर्णब को जेल जाना ही पड़ेगा’, बार-बार कहने लगे Shivsena नेता, एंकर ने किया साफ- नहीं मागूंगा माफी, क्या कर लोगे?
2 हिंदुओं की हत्याएं गिना मौलाना पर भड़के BJP के संबित पात्रा- न अरुंधति रॉय रुदाली बनीं, न इनके अब्बा जान हर्ष मंदर रोए…
यह पढ़ा क्या?
X