ताज़ा खबर
 

तेजस्वी-अखिलेश की प्रेस कॉन्फ्रेंसः RJD नेता बोले- देश में अघोषित इमरजेंसी, इसलिए सपा-बसपा को देंगे समर्थन

अखिलेश संग प्रेस कॉन्फ्रेंस में तेजस्वी यादव ने कहा यूपी की 80, बिहार की 40 और झारखंड की 14 सीटों पर भाजपा को मात देते हैं तो वह अपने आप 100 से भी कम पर पहुंच जाएगी।

आरजेडी नेता तेजस्वी यादव। (photo source ANI)

बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार पर निशाना साधते हुए यूपी में सपा-बसपा गठबंधन का समर्थन किया है। तेजस्वी यादव ने कहा कि देश में अघोषित इमरजेंसी का माहौल है। आज देश में नौजवान बेरोजगार हैं। उन्होंने कहा कि पिता लालू यादव जी ने जो कल्पना की थी वह अब जाकार साकार हुई है। हमने अखिलेश यादव और मायावती जी को बधाई दी है। उन्होंने कहा कि जो अंग्रेजों के गुलाम रहे वो आज देश की सत्ता पर काबिज हो चुके हैं। संघ के एजेंडे पर आज संविधान से छेड़छाड़ हो रही है। यूपी बिहार में तो भाजपा का सफाया तय है। अखिलेश संग प्रेस कॉन्फ्रेंस में तेजस्वी यादव ने कहा कि यूपी की 80, बिहार की 40 और झारखंड की 14 सीटों पर भाजपा को मात देते हैं तो वह अपने आप 100 से भी कम पर पहुंच जाएगी। तेजस्वी ने आरोप लगाया कि भाजपा ने लोगों को सिर्फ बड़े-बड़े सपने दिखाने का काम किया। बिहार के चुनाव में तो बोली लगाई गई। जिस विशेष राहत पैकेज का ऐलान किया गया उसका कुछ नहीं हुआ।

इसके अलावा प्रेस कॉन्फ्रेंस में सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने तेजस्वी को धन्यवाद देते हुए कहा कि देश में किसान, नौजवान और व्यापारी सभी दुखी हैं। यूपी में जो गठबंधन हुआ है उससे पूरे देश में खुशी है। अखिलेश ने सीएम योगी को जवाब देते हुए कहा कि उनकी सरकार थोड़ी जा रही थी जो वो मायावती के सामने नाक रगड़े। जिनकी सरकार जा रही है वो नाक रगड़ें। दरअसल यूपी के सीएम योगी ने न्यूजतक के एक कार्यक्रम में कहा था कि बसपा प्रमुख अगर सपा को दस सीटें भी देतीं तो अखिलेश नाक रगडकर मान जाते। तब योगी ने कहा कि सपा कन्नौज की सीट भी नहीं बचा पा रही है।

जानना चाहिए कि सपा प्रमुख अखिलेश और बसपा सुप्रीमो मायावती ने कांग्रेस को दरकिनार करते हुए राज्य में 38-38 सीटों पर चुनाव लड़ने का ऐलान किया है। दो सीटें सहयोगी पार्टियों के लिए छोड़ी गई है जबकि अमेठी  और रायबरेली की सीटें नैतिकता के आधार पर कांग्रेस के लिए छोड़ी गईं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App