जब पत्रकार से कहने लगे लालू यादव, जंप न करें, स्थिर रहिए, मना करने के बाद आपको बैठा दिया

लालू बोले कि “मुझे बोलने दो भाई, आप बोलने नहीं देते, यही तो दुर्भाग्य है हम लोगों का, हम मना किए थे कि काहे को राजदीप को बैठा दिया।”

AAJTAK Conclave, BJP, RJD
राष्ट्रीय जनता दल के नेता लालू प्रसाद यादव। (फाइल फोटो- रायटर)

राष्ट्रीय जनता दल के नेता लालू प्रसाद यादव की बोलने और बात करने का लहजा सबको अपनी ओर आकर्षित कर लेता है। वह जहां भी बोलते हैं, लोगों काे उनमें रुचि होने लगती है। कुछ समय पहले पीएम मोदी के पहले कार्यकाल में टीवी चैनल आज तक के एक कानक्लेव में वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई के साथ लालू जी की बातचीत में लालू जी अचानक भड़क गए। वे बार-बार टोकने पर बोले “आप जंप न करें, स्थिर रहिए, मना करने के बाद आपको बैठा दिया गया।”

कॉनक्लेव में राजदीप सरदेसाई ने उनसे कहा कि भाजपा के नेता अनंत कुमार जी कहते हैं कि देश में मोदी जी ने कई बड़े काम किए। उनकी तीन बड़ी उपलब्धियों में पहली जनधन योजना, दूसरी सोशल सिक्युरिटी यानी अटल बीमा योजना और तीसरी बात जिससे उत्साह भी आया है, दुनिया मान रही है कि मोदी जी एक अहम नेता बन गए हैं, जिससे देश का गौरव बढ़ा है। ये तीन उपलब्धियां हैं। इस पर लालू प्रसाद यादव ने कहा, “आपने बात रख दी, मैं समझ गया आपका सवाल, जो मंत्री लोग आपको आकर बताएं हैं, उनको क्या कल मंत्रिमंडल से निकलना है। घिसी-घिसाई बात पर आप विश्वास कर रहे हो।” सबसे बड़ी बात है कि देश की जनता को जो आपने फेंका, जो आपने चारा फेंका साढ़े 26 लाख करोड़ का उस पर बोलो।

कहा, “इसी हस्तिनापुर में, इसी धरती पर रामदेव जी से लेकर अन्ना जी और सब लोग और हम लोग पार्लियामेंट के अंदर थे कि काला धन, विदेश वाला, स्विस बैंक वाला और ये आरोप लगा था कि देश में बीजेपी को छोड़कर, इन लोगों ने प्रचार किया था कि कांग्रेस के नेताओं का, मेरा भी नाम लिया था, राज्यसभा में एक आरएसएस का बीजेपी का एमपी पेपर भी फेंका था, चाय की दुकान पर पहुंचाया था कि लालू यादव का साढ़े उनतीस हजार करोड़ है। वह खाता-वाता भी जाली ढंग से दिखाया था। कहा था कि एक महीना में हम साढ़े 26 लाख करोड़ रुपए लाकर देश के सवा करोड़ भारतीयों को देंगे। मान लो हमारे घर में दस लोग हैं हमको भी लेकर तो हर सदस्य को साढ़े 15 लाख मिलेंगे तो उसका दस में गुणा करेंगे तो कितना हो जाएगा। वह बहुत हो जाएगा।”

इस पर राजदीप बोले, नहीं, आप कहते हैं कि काला धन सरकार ने वापस नहीं किया, लेकिन सरकार कहती है कि एक साल में कोई बड़ा घोटाला तो नहीं हुआ, जो आपकी सरकार में हुआ था। इस पर लालू थोड़ा भड़क गए, बोले-“आप जंप मत करिए इधर-उधर, आप स्थिर रहिए, बात सुनिए, बात सुनिए। ये सवाल आप अमेरिका में किसी से पूछे थे तो झगड़ा-वगड़ा हुआ था।”

इस पर राजदीप ने कहा, आपने काला धन की बात उठाई तो लालू बोले कि “मुझे बोलने दो भाई, आप बोलने नहीं देते, यही तो दुर्भाग्य है हम लोगों का, हम मना किए थे कि काहे को राजदीप को बैठा दिया।”

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट
X