बैंक यूनियन और केंद्र सरकार में तनातनी, सरकारी बैंकों में नियुक्ति नहीं होने पर जताया एतराज - Rift between Bank Union and Narendra Modi Government over appointment of Bank officers in Public Sector Banks - Jansatta
ताज़ा खबर
 

बैंक यूनियन और केंद्र सरकार में तनातनी, सरकारी बैंकों में नियुक्ति नहीं होने पर जताया एतराज

यूनियन ने सरकार से कानून का सम्मान करने और अधिकारियों तथा कर्मचारी निदेशक की नियुक्ति को मंजूरी देने को कहा है।

Author June 18, 2017 4:22 PM
यूनियन ने सरकार से कानून का सम्मान करने और अधिकारियों तथा कर्मचारी निदेशक की नियुक्ति को मंजूरी देने को कहा है।

बैंक अधिकारियों के एक संगठन ने सरकार से सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के निदेशक मंडल में अधिकारी तथा कर्मचारियों द्वारा नामित निदेशकों की नियुक्तियां शीघ्र करने करने को कहा है। ऑल इंडिया बैंक आफिसर्स कॉनफेडरेशन (एआईबीओसी) ने एक बयान में कहा, ”हमारे निरंतर प्रयास के बावजूद सरकार इस मुद्दे पर चुप है। हालांकि, इसके लिये बैंकिंग नियमन कानून में इसका प्रावधान किया जा चुका है।”

यूनियन ने सरकार से कानून का सम्मान करने और अधिकारियों तथा कर्मचारी निदेशक की नियुक्ति को मंजूरी देने को कहा है। उसका कहना है कि यह मामला प्रधानमंत्री कार्यालय में कई महीनों से लंबित है।

संगठन ने एक उदाहरण दिया है कि ऑल इंडिया स्टेट बैंक ऑफिसर्स फेडरेशन )एआईएसबीओएफ) के अनुरोध पर एसबीआई के केंद्रीय बोर्ड के पूर्व सदस्य तथा एआईबीओसी के पूर्व महासचिव अमरपाल ने निदेशक पद के लिये नामांकन दाखिल किया है। अमरपाल फेडरेशन के पूर्व अध्यक्ष रहे हैं।

एआईबीओसी के महासचिव डी टी फ्रांको ने बयान में कहा कि संगठन ने ऐसे निदेशकों की नियुक्तियों पर मुहर के लिए शेयरधारकों से संपर्क करने का बीड़ा उठाया है और बहुत कम समय में एसबीआई के शेयरधारकों से संपर्क किया है। उन्होंने कहा कि चुनाव 15 जून को हुआ और ऐसा समझा जाता है कि अमरपाल को 6 लाख से अधिक वोट मिले हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App