ताज़ा खबर
 

Reservation मामले में RSS प्रमुख मोहन भागवत के समर्थन में उतरे जीतनराम मांझी

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) सेक्युलर के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी ने आरएसएस सर संघचालक मोहन भागवत के आरक्षण की समीक्षा के बयान की हिमायत करते हुए सोमवार को घोषणा की है...

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) सेक्युलर के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी ने आरएसएस सर संघचालक मोहन भागवत के आरक्षण की समीक्षा के बयान की हिमायत करते हुए सोमवार को घोषणा की है कि आरक्षण का लाभ दूसरों को मिले इसके लिए वह और उनके पुत्र अगला चुनाव अनारक्षित सीट से लड़ेंगे।

पटना में सोमवार को पत्रकारों से मांझी ने कहा कि वह अपने पुत्र संतोष कुमार सुमन को कहेंगे कि वह अगला बिहार विधानसभा चुनाव अनारक्षित सीट से लड़ें। अगले चुनाव में वह और उनके बेटे सामान्य सीट से ही चुनाव लड़ेंगे। मांझी महादलित समुदाय से आते हैं।

मांझी ने आरएसएस सर संघचालक के आरक्षण की समीक्षा वाले बयान का बचाव करते हुए कहा कि आरक्षण की समीक्षा होनी चाहिए क्योंकि आरक्षित वर्ग का एक बड़ा हिस्सा इसके लाभ से वंचित है। आरक्षित वर्ग में कई जातियों को शामिल किया गया पर इसका दायरा नहीं बढ़ाया गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App