ताज़ा खबर
 

पैनलिस्ट से बोले अर्नब गोस्वामी, आपसे ज्यादा पढ़ा है इतिहास, संक्रमण फैला रहे हो, माफी मांगो

रिपब्लिक टीवी के एडिटर अर्नब गोस्वामी ने जब कोरोना महामारी के बढ़ते प्रकोप के बीच किसान आंदोलन का मुद्दा उठाया, तो किसान नेता ने उनसे माफी मांगने के लिए कहा।

Author Edited By कीर्तिवर्धन मिश्र नई दिल्ली | Updated: April 22, 2021 10:20 AM
Arnab Goswami, Dushyant Nagarरिपब्लिक टीवी के एडिटर अर्नब गोस्वामी और कांग्रेस समर्थक दुष्यंत नागर।

भारत में कोरोनावायरस महमारी का प्रकोप तेजी से बढ़ता जा रहा है। कई राज्यों में इसके चलते कड़े प्रतिबंधों का ऐलान किया जा चुका है। दिल्ली में तो केजरीवाल सरकार ने कोरोना की स्थिति को देखते हुए लॉकडाउन तक लगा दिया है। इसके बावजूद दिल्ली के बॉर्डरों पर किसानों का आंदोलन जारी है। हाल ही में संयुक्त किसान मोर्चा ने चेतावनी दी है कि वह अगले कुछ दिनों में और किसानों को दिल्ली में इकट्ठा करेगा। इसी मुद्दे को लेकर बुधवार को रिपब्लिक टीवी पर बहस हो गई। जहां एंकर अर्नब गोस्वामी ने कहा कि किसान संगठनों का यह फैसला लोगों की जान खतरे में डालने वाला है, वहीं कांग्रेस समर्थक नेता उन्हें इतिहास के बारे में बताने लगे।

क्या बोले अर्नब गोस्वामी?: रिपब्लिक टीवी के एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी ने कहा, “हर चीज का समय होता है। अभी आपदा का समय है। ये आपदा में अपने स्वार्थ सिद्ध करने का अवसर भूल क्यों रहे हो आप। 20 हजार लोगों को लाओगे, तो संक्रमण फैलेगा। बच्चों को लगेगा। आपको दिक्कत नहीं लगती है।” देश बद्दुआ दे रहा है ऐसे लोगों को। मैं कह रहा हूं कि अभी कोरोना का समय है, इस समय क्या सेवा।

इस बीच कांग्रेस समर्थक दुष्यंत नागर ने किसान आंदोलन का पक्ष लेते हुए कहा, “आप राजनीति में आकर एक व्यक्ति को अपमानित करने के लिए झूठ मत बोलिए। उन्होंने देश की सेवा की है, समाज की सेवा की है। राजा हर्षवर्धन के समय से लेकर 1857 की क्रांति तक। आपको जानने की जरूरत है। तैमूर से किस तरह लड़ाई हुई थी। उसमें बालियान खाप का क्या किरदार था। इल्तुमिश की लड़ाई। आप जानते नहीं हैं कुछ। आप कुछ भी बोल देंगे। आप माफी मांगो।”

इस पर अर्नब गोस्वामी भड़क गए। उन्होंने कहा, “मेरी बात सुनो। आप इधर-उधर की बात मत करो। आपसे ज्यादा पढ़ा है मैंने इतिहास। आप पंजाब से हजारों लोगों को लेकर दिल्ली को ब्लॉक करने आए हैं। आप क्यों कर रहे हैं ये। आप माफी मांगो। क्या माफी मांगूंगा। बिल्कुल माफी नहीं मांगूंगा। माफी आप लोग मांगो। संक्रमण फैला रहे हो। इसमें जात-पात की बात मत लाइए। राजनीति चमका रहे हैं राकेश टिकैत।”

Next Stories
1 कोरोना जांच तक के लिए पैरवी की जरूरत, बड़े बीजेपी नेता ने माना- रसूख और पैसा भी नहीं आ रहा काम
2 भारत में गुरुवार को कोविड-19 के 3.14 लाख से ज्यादा मामले आए, यह एक दिन में दुनिया के किसी भी देश का सर्वाधिक केस
3 रेमडेसिविर कम पड़ी तो करने लगे बहाने, नालंदा मेडिकल कॉलेज का दावा- कोरोना के इलाज में ये कारगर नहीं
ये पढ़ा क्या?
X