ताज़ा खबर
 

ओपइंडिया.कॉम की रिपोर्ट का हवाला दे मुंबई पुलिस कमिश्नर से बोले अरनब गोस्वामी- परमवीर, तुम्हारी लंका जल रही है

अपने लाइव टीवी शो "पूछता है भारत" में अरनब ने कहा कि परमवीर सिंह ने रिपब्लिक भारत के साथ जो साजिश की है। अपने पसंदीदा 'तक' वाले चैनलों के साथ मिलकर को टीआरपी वाला झूठ बोला वो झूठ और परमवीर सिंह की सच्चाई सामने आ गई है। परमवीर, तुम्हारी लंका जल रही है।"

Edited By सिद्धार्थ राय नई दिल्ली | Updated: October 28, 2020 10:43 AM
TRP SCAM: अरनब गोस्वामी ने कहा – परमवीर, तुम्हारी लंका जल रही है।

रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क के एडिटर-इन-चीफ अरनब गोस्वामी ने ‘ओपइंडिया.कॉम ‘ की एक रिपोर्ट के हवाले से मुंबई पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह पर निशाना साधा है। अपने लाइव टीवी शो “पूछता है भारत” में अरनब ने कहा कि परमवीर सिंह ने रिपब्लिक भारत के साथ जो साजिश की है। अपने पसंदीदा ‘तक’ वाले चैनलों के साथ मिलकर को टीआरपी वाला झूठ बोला वो झूठ और परमवीर सिंह की सच्चाई सामने आ गई है। परमवीर, तुम्हारी लंका जल रही है।”

अरनब ने कहा “आपको याद होगा कि चार दिन पहले ओपइंडिया ने बड़ा खुलासा किया था कि परमवीर के कुछ परमबीर सिंह के कुछ पुलिस अधिकारियों ने रिपब्लिक को फंसाने के लिए गवाहों पर दबाव डाला कि वो रिपब्लिक का नाम लें। फर्जी गवाही देने के लिए धमकी दी गई थी रात के 3.30 बजे, घरों में घुसकर, बंदूक दिखाकर, फर्जी गवाही ले रहे थे। गवाहों ने अपनी बातचीत में कहीं भी रिपब्लिक का नाम नहीं लिया था। ओपइंडिया.कॉम ने गवाह पर दबाव का टेप रिलीज किया था, जिसके बाद आज ब्रकिंग खबर यह है कि सीबीआई ने वही टेप मांगा है। अब यह टीआरपी केस की जांच में इस परमवीर टेप को शामिल किया गया है।

अरनब ने कहा ” देख लिया न परम पराजित, मैंने तुमसे पहले ही कहा था तुम्हारी झूठ की ये लंका बचेगी नहीं। जलेगी, जलेगी, जलेगी और जल रही है तुम्हारी लंका।” अरनब ने कहा कि मुंबई पुलिस प्रमुख परम बीर ने प्रायोजित पत्रकारिता करने वाले अपने दोस्तों से फर्जी खबरें छपवाई, लेकिन हुआ क्या? उनका झूठ पकड़ा गया। हमारे खिलाफ मुंबई पुलिस अंग्रेजों के जमाने के जेलर बन गए। 100 साल पुराने कानून से हमें डराने की कोशिश की। लेकिन हुआ क्या? एक पुरानी कहावत है, एक झूठ को छिपाने के लिए 100 झूठ का सहारा लेना पड़ता है। TRP वाला जो झूठ मुंबई पुलिस ने बोला, उसको छिपाने के लिए 100 झूठ बोले। लेकिन क्या हुआ? आखिर में वह खुद ही फंस गए।

अरनब ने कहा कि तुमने हमारे लिए जाल बिछाए। अब उस जाल में तुम खुद फंसे हो। गीता में भगवान श्रीकृष्ण ने कहा था कि क्रोध से भ्रम पैदा होता है। भ्रम से बुद्धि नष्ट हो जाती है। उन्हें भ्रम हो गया था कि उनके ऊपर सोनिया सेना का हाथ है। इसलिए तुम जितनी साजिश करो, फंसोंगे नहीं।

Next Stories
1 हरियाणा: जायदाद दलालों के लिए लागू होगी आचार संहिता, संपत्ति खरीदारी-बिक्री पर एक फीसद से ज्‍यादा कमीशन नहीं
2 बिना वेतन काम कर रहे निगम डॉक्टरों की पीड़ा: किसी ने गहने गिरवी रखे, तो कोई तोड़ रहा बचत
3 चुनावी रण: ऐ भाई…घरवालों का बोलबाला
ये पढ़ा क्या?
X