ताज़ा खबर
 

राष्ट्रपति के “ऐट होम” में नहीं पहुंचे अमित शाह, जेपी नड्डा; संबित पात्रा, राम माधव जैसे नेता की मौजूदगी पर हैरानी

Republic Day 2020: राष्ट्रपति भवन में आयोजित इस कार्यक्रम में ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोलसोनारो मुख्य अतिथि के रूप में शामिल थे।

बताया जा रहा है कि अमित शाह दिल्ली चुनाव को लेकर व्यस्त हैं इसीलिए को कार्यक्रम में नहीं आ सके।

Republic Day 2020: गणतंत्र दिवस के अवसर पर राष्ट्रपति भवन में आयोजित ऐट होम कार्यक्रम में केंद्रीय गृह मंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का नहीं जाना रविवार को चर्चा का विषय बना रहा। इंडियन एक्सप्रेस में छपे कॉलम दिल्ली कॉन्फिडेंसियल में पार्टी सूत्रों के हवाले से लिखा गया कि दोनों नेता दिल्ली चुनाव के अति व्यस्त शेड्यूल के कारण इस कार्यक्रम में शामिल नहीं हो सके। निश्चित रूप से दोनों नेताओं ने प्रोटोकॉल का खास ध्यान रखे जाने वाले इस कार्यक्रम की तुलना में पार्टी की जिम्मेदारियों को चुना। हालांकि,

ऐट होम कार्यक्रम में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भी अनुपस्थित रहे। दूसरी तरफ, खबर के अनुसार कार्यक्रम में भाजपा महासचिव राम माधव और पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा की मौजूदगी हैरानी करने वाली रही। इन दोनों नेताओं के अलावा संजय मयूख भी वीआईपी एन्कलोजर में मौजूद थे। आमतौर पर इस वीआईपी एनक्लोजर में मंत्रियों के अलावा पूर्व और मौजूदा संवैधानिक पदाधिकारी ही मौजूद रहते हैं। राष्ट्रपति

भवन के सूत्रों के अनुसार चूंकि विपक्षी दलों के पदाधिकारियों को भी न्योता भेजा जाता है, ऐसे में इसमें कुछ भी असामान्य नहीं है। एक अधिकारी ने कहा कि यह अलग बात है कि वे मौजूद नहीं थे। राष्ट्रपति भवन में आयोजित इस कार्यक्रम में ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोलसोनारो मुख्य अतिथि के रूप में शामिल थे। राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ब्राजीली राष्ट्रपति का स्वागत किया। ऐट होम समारोह 26 जनवरी के साथ ही 15 अगस्त को भी आयोजित किया जाता है। इस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री, कैबिनेट मंत्रियों, राजदूतों व अन्य गणमान्य हस्तियों को आमंत्रित किया जाता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 PM मोदी को दिग्विजय का सुझाव- NRC की जगह शिक्षित बेरोजगार भारतीयों का रजिस्टर बनाओ, उससे एकजुटता आएगी
2 शाह की रैली में CAA के खिलाफ बोलने वालों की हुई धुनाई, ‘देश के गद्दारों को, गोली मारो…’ का नारा भी लगा
3 ‘भारत के इतिहास को फिर से लिखने की जरूरत’, वित्त मंत्रालय के आर्थिक सलाहकार ने कहा- आजादी के मौजूदा इतिहास से बिल्कुल अलग है हकीकत
ये पढ़ा क्या?
X